दुष्कर्म पीड़िता के पिता की मौत की आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट, सेंगर की बढ़ी मुश्किलें

लखनऊ ब्यूरो: भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किलें अब और बढ़ सकती है। उन्नाव में दुष्कर्म पीड़िता के पिता की मौत के बाद आई पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा हुआ है। मंगलवार को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आंत फटने और अंदरूनी चोट के चलते मौत का कारण बताया गया है। बता दें कि विधायक कुलदीप सिंह के भाई अतुल सिंह उर्फ जयदीप सिंह को तड़के कानपुर से गिरफ्तार कर लिया गया है । फिलहाल पुलिस ने उसको गुप्त ठिकाने पर रखा है। अब कुलदीप सेंगर की गिरफ्तारी की संभावना बढ़ गयी है।

बता दें कि गंगा उन्नाव के गंगा घाट पर दुष्कर्म पीडि़ता के पिता का अंतिम संस्कार कड़े पहरे में आज किया गया। बेटे के अंतिम संस्कार के दौरान घाट पर उनकी बुजुर्ग मां भी थीं। जिनकी हालत बदहवास सी हो गई। वहीं घाट से पहले ही दुष्कर्म पीड़िता किशोरी को महिला पुलिस कर्मियों ने संभाला।

दुष्कर्म पीडि़ता के पिता पप्पू सिंह का सुबह गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र के मिश्रा कॉलोनी श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। भाई महेश सिंह ने मुखाग्नि दी। एडीएम व एएसपी समेत कई थाना की फोर्स की मौजूदगी में अंतिम संस्कार गया। मृतक के भाई महेश सिंह ने कहा अगर मेरे भाई की मौत के मामले में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके सहयोगियों की गिरफ्तारी ना हुई तो वह लोग नई दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना देने के साथ ही भूख हड़ताल भी करेंगे। हम इस मामले में सीबीआई जांच की मांग भी करेंगे। हमको जिला प्रशासन तथा प्रदेश सरकार से न्याय नहीं मिल पा रहा है।

मामले में मीडिया से बात करते हुए उन्नाव के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने कहा कि मौत की वजह शॉक और सेप्टीसीमिया है। उन्नाव केस से जुड़े सभी आरोपों की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया। जांच होगी और दोषियों पर कार्रवाई भी की जाएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper