देश में कोरोना केस ही नहीं, ठीक होने वाले भी बना रहे रेकॉर्ड

नई दिल्ली: देश में शनिवार को कोरोना के 48,916 मामले आए। ज्यादा मरीज आने की वजह यह है कि अब ज्यादा टेस्ट भी हो रहे हैं। बीते चौबीस घंटों में रेकॉर्ड 4.20 लाख से ज्यादा टेस्ट हुए। यही वजह है कि दो दिन में ही एक लाख केस आ गए। इस दौरान 67 हजार लोगों ने कोरोना को मात भी दी। यह संख्या इसलिए भी अहम है कि दो महीने पहले 25-26 मई को महज 414 लोग ठीक हुए थे और जून की इन्हीं तारीखों में कुल ठीक होने वाले 5600 लोग थे। ज्यादा लोगों के ठीक होने से देश में रिकवरी रेट बढ़कर 63.53% हो गया है। वहीं दिल्ली में यह रेट 87.29% है।

दिल्‍ली में पॉजिटिविटी रेट 5% पहुंचा
राजधानी में 24 घंटों में कोरोना के 1142 मामले आए और 2137 मरीज ठीक हुए। दिल्ली में कोरोना के कुल 129,531 केस में 113,068 ठीक हो चुके हैं। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि राजधानी में संक्रमित होने का अनुपात घटकर 5% तक आ गया है। मतलब कि जितने टेस्ट किए गए उनमें से 5% सैंपल ही पॉजिटिव आ रहे हैं। फिलहाल स्थिति संतोषजनक है, लेकिन हमें आगे भी तैयार रहना है। बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना से 29 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। दिल्ली में अभी तक कोरोना से कुल 3806 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है। 24 घंटे के दौरान दिल्ली में 1142 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं।

उद्धव का लॉकडाउन हटाने से इनकार
इस बीच, तमिलनाडु में संक्रमितों का आंकड़ा शनिवार को दो लाख पार कर गया। यहां अब तक 206,737 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लॉकडाउन हटाने से इनकार किया है। पुडुचेरी ने सभी विधायकों का कोरोना टेस्ट कराने का फैसला किया है। बंगाल और केरल में वीकएंड पर लॉकडाउन रहेगा। देश में कुल कोरोना मरीजों की तादाद 1,336,861 पर पहुंच गई है, तो इस वायरस से जंग जीतने वाले भी 849,432 हो गए हैं।

केजरीवाल ने शुरू किया 450 बेड वाला अस्‍पताल
अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को विडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बुराड़ी में नवनिर्मित अस्पताल की शुरुआत की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि फिलहाल अस्पताल को 450 कोविड बेड के साथ शुरू किया जा रहा है। इसे जल्द 700 बेड का बनाया जाएगा। इस अस्पताल में हर तीसरे बेड पर ऑक्सिजन की व्यवस्था है। फिलहाल यह अस्पताल पूरी तरह से कोराना के उपचार को समर्पित रहेगा। आधुनिक सुविधाओं से लैस इस अस्पताल में अभी 250 और बेड की व्यवस्था की जानी है। 250 बेड और जोड़े जाने के बाद यह 700 बेड का अस्पताल बन जाएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper