देश में कोरोना के एक्टिव केस से तीन गुना हुए रिकवरी मामले

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को घोषणा की कि कोरोना वायरस बीमारी (कोविड-19) में रिकवरी और सक्रिय मामलों के बीच की खाई और चौड़ी होती जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से पता चलता है कि देश में 2,280,566 रिकवरी मामलों में 707,668 सक्रिय मामले हैं। सक्रिय कोविड -19 मामले देश के मौजूदा रोग भार हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार सुबह ट्वीट कर कहा “यह गंभीर रोगियों के लिए अस्पताल की सेटिंग्स में कुशल नैदानिक ​​प्रबंधन को सुनिश्चित करने, और उदारवादी और हल्के लक्षण वाले लोगों के लिए क्वारंटाइन करने के लिए केंद्र-नीत नीतियों के प्रभावी कार्यान्वयन के कारण है।”देश में अब तक दर्ज किए गए कुल सकारात्मक मामलों में से लगभग 23.24% सक्रिय मामले हो गए हैं। पहला कोरोना मामला इस साल 30 जनवरी को पाया गया था। कोविड -19 की रिकवरी 75% को भी छू गई है। “

यह वास्तव में सरकार द्वारा प्रकोप के प्रबंधन के लिए किए गए सभी प्रयासों का परिणाम है। हम कोविड -19 संक्रमणों का जल्द पता लगा रहे हैं। जिसके लिए बड़े पैमाने पर मजबूत निगरानी प्रणाली के अलावा बड़े पैमाने पर टेस्ट को श्रेय जाता है। डॉ. वीके पॉल, सदस्य (स्वास्थ्य), नीतीयोग ने कहा- हमने भारत के बड़े जनसंख्या आकार को अच्छी तरह से प्रबंधित किया है। हालांकि कोविड -19 से संबंधित कुल मौतें 60,000 के करीब जा रही हैं।

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से गंभीर रूप से जूझ रहे अमेरिका में यह महामारी विकराल रूप ले चुकी है और अब तक 57 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) की ओर से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या 57 लाख को पार कर 57,00,487 हो गयी है। जबकि इस महामारी से मरने वालों की संख्या 1,76,797 पहुंच गयी है।

अमेरिका का न्यूयॉर्क, न्यूजर्सी और कैलिफोर्निया प्रांत कोरोना से सबसे बुरी तरह प्रभावित है। अकेले न्यूयॉर्क में कोरोना संक्रमण के कारण 32,883 लोगों की मौत हुई है। न्यूजसीर् में अब तक 15,946 लोगों की इस महामारी के कारण मौत हो चुकी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper