देश में कोरोना के नए मामले घटे, 3 लाख 55 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए

नई दिल्ली: भारत में कोरोना के 3 लाख 55 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। एक मई की तुलना में बीते 3 दिनों से नए मामले घटे जरूर हैं लेकिन अब देश ने एक और अनचाहा रिकॉर्ड बना लिया है। भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या दो करोड़ के पार पहुंच गई है। भारत अब दुनिया का दूसरा ऐसा देश है जहां कोरोना के कुल मरीज 2 करोड़ से ज्यादा हो गए हैं। संक्रमण की रफ्तार इतनी तेज है कि महज 137 दिन में मामले एक करोड़ से 2 करोड़ के पार पहुंच गए। इससे पहले संक्रमितों की संख्या एक लाख से एक करोड़ तक पहुंचने में 360 दिन लगे थे। मतलब चार माह में कोरोना के मामले दो गुने हो गए।

देश में सोमवार को कोरोना के 3,55,828 नए मामले आए तथा 3438 और मरीजों की मौत हो गई। वर्ल्डोमीटर के आंकड़ों के मुताबिक, संक्रमितों की कुल संख्या 2 करोड़ 2 लाख 75 हजार 543 पर पहुंच गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 17.13 प्रतिशत है। जबकि मृतक संख्या 2 लाख 22 हजार 666 हो गई है। देश में 01 मई को संक्रमण के रिकॉर्ड 4,01,993 नए मामले आए थे वहीं दो मई को 3,92,488 मामले सामने आए। कोरोना के ऐक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 34,44,548 हो गई है। राजधानी दिल्ली में सोमवार को रिकॉर्ड 448 लोगों ने कोरोना महामारी के चलते दम तोड़ दिया। मौतों का यह आंकड़ा अब तक सबसे ज्यादा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि चिंता की बात है कि 23 राज्यों एवं संघशासित प्रदेशों में कोरोना के मामलों में अभी भी बढ़ोतरी का रुझान है। उन्होंने कहा कि 12 राज्यों में सक्रिय रोगियों की संख्या एक लाख से ज्यादा है। जबकि सात राज्यों में 50 हजार से एक लाख के बीच है। कोरोना वायरस से होने वाली सबसे ज्यादा मौतों के मामले में भारत दुनिया में तीसरे पायदान पर पहुंच गया है। अभी तक अमेरिका में सबसे ज्यादा 5.92 लाख, ब्राजील में 4.04 लाख लोगों ने कोरोना की वजह से दम तोड़ा है। इसके बाद भारत है, जहां कोरोना वायरस अब तक 2.18 लाख लोगों की जान ले चुका है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper