दो पतियों से शादी कर तलाक लेने के बाद अब तीसरे हमसफर की तलाश में है ये नामी एक्ट्रेस

फिल्म बादशाह, कोयला जैसी कई फिल्मों के बाद मशहूर एक्ट्रेस दीपशिखा नागपाल ने सीरियल में अपना पैर फैलाया और सीरियल से उन्हें काफी लोकप्रियता भी मिली. फिल्म इंडस्ट्री से अलग दीपशिखा के कुछ ऐसे किस्से हैं जिन्हें सुनकर वो रो देती हैं. पर्दे पर ये अभिनेत्री जितनी हंसी-ठहाके लगाती हैं असल जिंदगी में उतनी ही गंभीर और उदास है लेकिन अपने दोनों बच्चों को देखकर ये एक्ट्रेस सारे दुख भूल जाती है. दीपशिखा दो शादी और दोनों से तलाक के बाद अपने दोनों बच्चों की अकेले देखभाल कर रही हैं साथ ही तीसरे हमसफर की तलाश भी कर रही हैं.

जी हां…दीपशिखा ने 1997 में अभिनेता जीत उपेंद्र से शादी की थी और एक बेटे और बेटी को जन्म भी दिया था. शादी के 10 साल बाद दोनों के रिश्तों में खटास आ गई, जिसे दोनों का संभालना मुश्किल हो गया था. जिसके बाद दीपशिखा ने 2007 में तलाक ले लिया और 2012 में केशव अरोड़ा से शादी की. केशव के साथ भी दीपशिखा सिर्फ 4 साल ही रुक पाईं और केशव से तलाक ले लिया.

Jio GigaFiber की कीमत हुई लीक, जानें कितने से शुरू हो सकते हैं प्लान

दोनों पतियों से तलाक लेने के बाद दीपशिखा अकेली हो गईं. उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि कई बार मुझे एक सीरियल की शूटिंग के लिए जयपुर जाना पड़ जाता था. ऐसे में मेरे बच्चे मुंबई में अकेले रहे. मुझे बच्चों को अकेला छोड़कर बहुत दुख हुआ, लेकिन जैसे ही मुझे टाइम मिलता था मैं सुबह की फ्लाइट से मुंबई पहुंच जाती और पूरा दिन बच्चों के साथ रहने के बाद शाम वाली फ्लाइट से जयपुर आ जाती थीं.

दीपशिखा ने ऐसा मैंने चार महीने तक किया, लेकिन मैं खुश हूं क्योंकि मेरे बच्चे बहुत समझदार हैं और मेरी परेशानियों को समझते हैं. इस भागदौड़ वाली जिंदगी ने मेरे बच्चों के बीच रिश्ता और ज्यादा मजबूत बना दिया. दीपशिखा ने बताया कि मैं बहुत थक गई हूं और अगर अब तीसरा कोई अच्छा इंसान मिला तो शादी करूंगी.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper