नई जेल चौकी के उद्घाटन पर भड़के योगी के मंत्री, दीवारों में दिखीं दरारें और सीलन

फिरोजाबाद । उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी सरकार (Yogi government) में कारागार और होमगार्ड राज्य मंत्री धर्मवीर प्रजापति (Dharamveer Prajapati) रविवार को फिरोजाबाद दौरे पर थे. इस दौरान उन्होंने जिला जेल में बनी एक चौकी का उद्घाटन किया. लेकिन वह इस नई चौकी के निर्माण की क्वालिटी देखकर हैरान रह गए. फिर मीडिया के सवालों से घिरने पर मंत्री ने इस मामले की जांच कराने का आश्वासन दिया.

दरअसल, फिरोजाबाद की जिला जेल में बनी चौकी का उद्घाटन उत्तर प्रदेश के कारागार मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने किया. जैसे ही वह फीता काटकर जेल चौकी के अंदर घुसे तो दंग रह गए. क्योंकि नई-नवेली चौकी की दीवारों में दरारें पड़ी हुई थीं और छतों से बारिश का पानी टपक रहा था. यही नहीं, वॉश बेसिन भी पुराने और खराब गुणवत्ता के लगे थे.

जेल चौकी के निर्माण में खराब गुणवत्ता पर मीडिया ने जब सवाल दागे, तो कारागार मंत्री धर्मेंद्र प्रजापति ने आश्वासन दिया कि 2 साल पहले बनी इस चौकी के निर्माण के लिए पत्रावली मंगाकर जांच करेंगे कि ठेकेदार ने क्या-क्या कमियां छोड़ी हैं?

गौरतलब है कि रविवार को यदि बारिश न हुई होती तो जिला चौकी में निर्माण में हुई खामियों का पता ही नहीं चलता. हल्की बरसात में दीवारों पर सीलन, छत से पानी का टपकना और फर्श भी जगह जगह चटकना बताता कि इस निर्माण में बेहद लापरवाही बरती गई है. अब देखना है कि इस घटिया निर्माण की जांच में क्या निकलता है?

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper