नए साल में एक साथ 31 उपग्रहों को लांच करेगा इसरो

बेंगलुरु: बेंगलुरु भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) नए साल की शुरुआत एक महत्वकांक्षी अंतरिक्ष अभियान के साथ करने जा रहा है। इसरो ने घोषणा की वह 10 जनवरी, 2018 को एक साथ 31 कृत्रिम उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजेगा। इन उपग्रहों को पोलर सैटेलाइट लांच व्हीकल से लांच किया जाएगा। इन 31 उपग्रहों में भारत का अर्थ आब्जर्वेशन सैटेलाइट कार्टोसैट-2 भी शामिल है। हालांकि लॉन्चिंग की तारीख में बदलाव भी हो सकता है। इसरो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा,10 जनवरी इस मिशन के लांच की तारीख तय की गई है।

इसमें मुख्य पेलोड भारत का सैटेलाइट कार्टोसैट-2 है। पीएसएलवी-सी-40 को आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से लांच किया जाएगा। इस मिशन में 28 विदेशी नैनो सैटेलाइट के साथ भारत की कार्टोसैट-2,एक नैनो सैटेलाइट और एक माइक्रो सैटेलाइट लांच की जाएगी। योजना को अंतिम रूप देने के लिए मिशन रेडीनेस रिव्यू कमेटी व लांच आथोराइजेशन बोर्ड जल्द बैठक कर सकते हैं। आंध्रप्रदेश के श्री हरिकोटा से अंतरिक्ष यान पीएसएलवी-सी40 को रवाना किया जाएगा। मिशन में दूसरे देशों के 28 छोटे उपग्रह शामिल हैं।

गौरतलब है कि इस साल 31 अगस्त को पीएसएलवी से नेविगेशन सैटेलाइट आईआरएनएसएस-1 एच लांच की गई थी, लेकिन हीट शील्ड न खुलने के कारण सैटेलाइट रॉकेट के चौथे चरण समेत अंतरिक्ष में पहुंच गया। अब वह अंतरिक्ष कचरे की तरह धरती के चक्कर काट रहा है। इस असफलता के बाद इसरो ने पिछले चार महीने में किसी मिशन को अंजाम नहीं दिया। नए साल में पीएसएलवी को कुछ बदलाव के साथ फिर मिशन पर भेजा जाएगा। खासकर पे लोड फेयरिंग यानी हीट शील्ड तकनीक में बदलाव किया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper