नवनिर्मित सैप्टिक टैंक में दम घुटने से बाप और दो बेटे समेत छह की मौत

देवघर: देवघर के देवीपुर प्रखंड में रविवार की सुबह नवनिर्मित सैप्टिक टैंक में दम घुटने से मकान मालिक सहित छह लोगों की मौत हो गई। मृतकों में मकान मालिक का भाई भी शामिल है। साथ ही चार मृतक मजदूरों में एक ही परिवार के तीन लोग पिता और दो पुत्र शामिल हैं। मिली जानकारी के अनुसार, देवीपुर मुख्य बाजार के पास ब्रजेश चंद बरनवाल ने नया सैप्टिक टैंक का निर्माण कराया था।

रविवार सुबह सेंट्रिंग को खोलने के लिए पहले एक मजदूर टंकी में उतरा। काफी देर बाहर नहीं आने के बाद दूसरा मजदूर भी टंकी में गया और वह भी वापस नहीं आया। इसके बाद एक-एक कर दो अन्य मजदूर भी अंदर गए। उनके भी बाहर नहीं आने पर इसकी जांच करने मकान मालिक और उसका भाई टंकी में उतर गए। इसके बाद इसकी सूचना ग्रामीणों को हुई। ग्रामीणों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी।

पुलिस ने जेसीबी की मदद से टंकी को तोड़कर बेहोशी की हालत में फंसे सभी छह लोगों को बाहर निकाला। उन्हें एंबुलेंस से सदर अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने सभी को मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी मिलने पर उपायुक्त कमलेश्वर प्रसाद भी सदर अस्पताल पहुंचे और परिजनों, पुलिस अधिकारियों और डॉक्टरों से जानकारी प्राप्त की। डीसी ने घटना को दुखद बताते हुए मृतकों के परिवारों को सरकारी प्रावधान के अनुसार सहायता उपलब्ध कराने की बात कही।

मृतकों के नाम : घटना में मरने वालों में देवीपुर थाना क्षेत्र के कोल्हड़िया गांव निवासी गोविंद मांझी (48) और उनका पुत्र बबलू मांझी (26) व लालू मांझी (24) शामिल है, इसके अलावा एक अन्य मजदूर पिरहा कट्टा निवासी लीलू मुर्मू (27) शामिल है। हादसे में मालिक ब्रजेश चंद बरनवाल (48) और उनका भाई मिथिलेश चंद बरनवाल (42) की भी मौत हो गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper