नहीं भंग होगी दिल्ली विधानसभा, सरकार के पास नहीं है कोई प्रस्ताव: मनीष सिसोदिया

नई दिल्ली: दिल्ली में विधानसभा भंग नही होगी। विधानसभा भंग होने की सभी अटकल को दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सिरे से खारिज किया है। उन्होंने कहा कि सरकार पूर्ण बहुमत में है विधानसभा भंग करने का कोई प्रस्ताव नहीं हैं। मनीष सिसोदिया ने दावा किया कि अगर 20 सीटों पर उपचुनाव की नौबत भी आई तो पार्टी सभी 20 सीटें जीत लेगी। उन्होंने कहा कि हम अच्छा काम कर रहे हैं इसलिए हमारे पीछे पड़े हुए हैं।

उन्होंने कहा कि हम स्कूल बना रहे हैं, कॉलेज बना रहे हैं, अस्पताल बना रहे इसके बावजूद अर¨वद केजरीवाल इस्तीफा क्यों दें? कोई विधायक सचिवालय में अगर किसी कमरे में बैठ गया तो क्या वह लाभ का पद हो गया. क्या सचिवालय में लिफ्ट के इस्तेमाल पर भी विधायकों से पैसे लिए जाएंगे। कुमार विश्वास के आरोपों पर भी मनीष सिसोदिया ने सफाई दी।

उन्होंने कहा कि विश्वास ने क्या कहा मैं उनसे बात कर लूंगा उन मुद्दों पर मीडिया में नहीं लाऊंगा। सिसोदिया ने कहा कि उन्हें अदालत पर पूरा भरोसा है। दिल्ली की जनता को न्याय मिलेगा। यह राजनीतिक षड्यंत्र दिल्ली की जनता के साथ हुआ है कि अगले दो साल दिल्ली में काम नहीं होने देने हैं बस चुनाव में धकेल दो दिल्ली को। सिसोदिया ने विधायकों को अयोग्य होने के फैसले को केंद्र की बीजपी सरकार को षड्यंत्र बताया।

सिसोदिया ने कहा कि पूरे देश मे जहां जहां भी संसदीय सचिव होते हैं वहां उनके नियुक्ति आदेश में लिखा होता है कि ये राज्य मंत्री के बराबर होंगे इनको तनख्वाह मिलेगी , जबकि हमने संसदीय सचिवों ना तनख्वाह दी, ना घर दिया न कोई भत्ता आदि दिया फिर भी इनको अयोग्य घोषित कर दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper