निपाह मामला : हर्षवर्धन ने केरल को केंद्र के सहयोग का आश्वासन दिया

नई दिल्ली: पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वीरोलॉजी (एनआईवी) ने सोमवार को यह पुष्टि कर दी कि केरल में कोच्चि के निकट अपना इलाज करा रहे युवक की निपाह वायरस (एआईवी) की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने यहां तत्काल आपातकालीन बैठक की और केरल को केंद्र की तरफ से पूरे सहयोग का आश्वासन दिया।

मंत्रालय के बयान के अनुसार, उन्होंने केरल की स्वास्थ्य मंत्री के.के. शैलजा से बात कर स्थिति पर चर्चा की। बयान में कहा गया है कि केंद्र की छह अधिकारियों की एक टीम पहले ही महामारी विज्ञान जांच प्रोटोकॉल और संदिग्धों की जल्द पहचान के लिए संपर्क ट्रेसिंग, संदिग्धों के लिए प्रोटोकॉल्स की जांच और ऐसे मरीजों को अलग रखने की व्यवस्था की जांच के लिए पहुंच चुकी है।

बयान के अनुसार, एक नियंत्रण कक्ष बनाया जा चुका है और एनसीडीसी रणनीतिक स्वास्थ्य संचालन केंद्र (एसएचओसी) सक्रिय किया जा चुका है, जिसका फोन नंबर 011-23978046 है। मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज के साथ पुणे स्थित एनआईवी की एक टीम (आईसीएमआर) एर्नाकुलम पहुंचने वाली है। चमगादड़ों में निपाह वायरस की जांच करने के लिए भी एनआईवी की एक टीम रवाना हो चुका है। केंद्रीय मंत्री ने वन महानिदेशक से भी बात की है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper