नीतीश ने लिया गडकरी से बदला ,जलमार्ग योजना को फ्लॉप बताया

दिल्ली ब्यूरो: पटना में नीतीश कुमार ने भरी सभा में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से अपना हिसाब बराबर कर लिया।बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार के मंत्री हर्षवर्धन की मौजूदगी में ही कहा कि गंगा की न तो निर्मलता बची है और न ही अविरलता। नीतीश कुमार ने इसके साथ ही केंद्र सरकार की जलमार्ग परियोजना को भी फ्लॉप करार दिया। चर्चा यही है कि नीतीश कुमार ने आज नितिन गडकरी के उस बयान का जवाब दिया है, जिसमें नितिन गडकरी ने बिहार में दो लाख करोड़ रूपये की सड़क परियोजनाओं के फंसे होने का ठीकरा बिहार सरकार पर फोड़ा था।

बता दें कि बिहार में जदयू और बीजेपी के बीच सीट बंटवारे को लेकर भी रस्साकसी जारी है। बता दें कि जलवायु परिवर्तन की चर्चा में नीतीश ने गंगा का मसला मज़बूती से उठाया और नमामि गंगा परियोजना की मंच से ही हवा निकाल दी। उन्होंने आरोप लगाया कि लोग कहते हैं कि बिहार में ख़ूब पानी है लेकिन ऐसा नहीं है। गंगा नदी में इतने बांध बना दिए गए हैं कि पानी का प्रवाह ही रुक गया है। नीतीश ने आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार ने पर्यावरण के साथ सबसे कम छेड़छाड़ की, बिहार ने गंगा का प्रवाह बढ़ाया है लेकिन फिर भी आज बिहार प्रकोप झेल रहा है। गंगा की निर्मलता और अविरलता पर सवाल उठाते हुए नीतीश ने कहा कि गंगा नदी में काई दिखाई देने लगा है, जैसे जमे हुए पानी में दिखता है, कई जगहों पर गंगा का पानी नाले के पानी जैसा हो गया है। सिल्ट को हम निकाल लें लेकिन इससे सिल्ट मैनेजमेंट नहीं होगा बल्कि नदी के प्रवाह से ही सिल्ट को निकालना होगा।

नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार के बहाने नितिन गडकरी की जलमार्ग परियोजना की भी हवा निकाली। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस साल जनवरी में बनारस से पटना आ रहा एक जहाज बक्सर के पास गंगा नदी में फंस गया। दो महीने पहले उस जहाज को निकालने के लिए दूसरा जहाज भेजा गया, वो जहाज भी उससे कुछ दूर पहले ही नदी में फंस गया क्योंकि बक्सर में गंगा नदी की गहराई एक मीटर बची है। इसमें जहाज कैसे चलेगा! गौरतलब कि केंद्र सरकार ने बनारस से पटना तक केंद्रीय जलमार्ग बनाया है राजनीतिक जानकार मान रहे हैं कि नीतीश जिन तथ्यों के साथ बीजेपी और उसके मंत्रियों पर हमला कर रहे हैं वह सब आगे की राजनीति है। लेकिन यह भी सच है कि नीतीश किसी से बदला लेने से नहीं चूकते। आगे चाहे जो भी हो जाय।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper