नीरव के बाद कनिष्क ज्वैलर्स ने लगाया SBI को 854 करोड़ का चूना

दिल्ली ब्यूरो: बैंक घोटाला रुकने का नाम नहीं ले रहा। जिस तरह के मामले सामने आ रहे हैं उससे लग रहा है कि ज्वेलरी का धंधा कर रहे व्यापारियों ने ख़ास तौर पर बैंक को चूना लगाया है। गीतांजलि ज्वैलर्स के नीरव मोदी और मेहुल चोकसी द्वारा पंजाब नेशनल बैंक से करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने के बाद एक और बड़े बैंक में घोटाले का पर्दाफाश हुआ है। इस बार घोटाले का मुख्य शिकार एसबीआई बना है। एसबीआई ने सीबीआई को भेजी गयी शिकायत में इस बात का जिक्र किया है कि कनिष्क ज्वैलर्स ने करीब 854 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है।

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई ने कनिष्क गोल्ड प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ सीबीआई से जांच की मांग करते हुए कहा कि इस कंपनी ने कर्ज मामले में 842.15 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है। मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार, हालांकि सीबीआई ने अभी तक एसबीआर्इ की शिकायत पर कनिष्क ज्वैलर्स के खिलाफ कोई एफआईआर दर्ज नहीं करायी है।

सीबीआई उन 14 सरकारी और निजी बैंकों में शामिल अहम बैंक हैं, जिसने इस कंपनी को 824 करोड़ रुपये का कर्ज दिया। एसबीआई की ओर से लिखे पत्र के अनुसार, कनिष्क गोल्ड ने 2007 से कर्ज लेना शुरू किया और बाद में उसने अपनी क्रेडिट की सीमा बढ़वा लिया। प्राथमिक जानकारी के मुताविक इस खेल में बैंक के कई कर्मचारी भी शामिल बताये जा रहे हैं। खबर के मुताविक कनिष्क ज्वेलरी को कर्ज देने में वित्त मंत्रालय से जुड़े कई अधिकारियों के भी शामिल होने की आशंका बतायी जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper