नुकसान भी पहुंचा सकता है तुलसी का पौधा, जानिये किस दिशा में लगाएं

तुलसी के पौधे का हिंदू धर्म में बहुत महत्व है। प्राय: हर घर में तुलसी का पौधा लगाया जाता है। तुलसी का पौधा आयुर्वेदिक महत्व से साथ ही धार्मिक महत्व भी रखता है। आज शुक्रवार, 8 नवंबर को देवउठनी एकादशी है। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देव प्रबोधिनी एकादशी भी कहते हैं। इस तिथि पर भगवान विष्णु विश्राम से जागते हैं। देवउठनी एकादशी पर तुलसी और भगवान विष्णु के स्वरूप शालिग्राम का विवाह कराया जाता है। अधिकतर लोग घर में तुलसी का पौधा जरूर लगाते हैं। इस संबंध में मान्यता है कि तुलसी से घर में सुख-समृद्धि बढ़ती है।

तुलसी के अलावा कुछ और भी पेड़-पौधे घर में लगाए जाते हैं। पेड़-पौधे न सिर्फ घरों की शोभा बढ़ाते हैं, बल्कि इन्हें शुभ भी माना जाता है। अगर इन्हें सही दिशा में और जगह पर न लगाया जाए तो ये अशुभ फल भी दे सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि इन्हें सही दिशा और घर के सही हिस्से में लगाया जाए। जानिए तुलसी और अन्य खास पेड़-पौधों से जुड़ी खास बातें…

दक्षिण दिशा में ना लगाए तुलसी

तुलसी का पौधा घर के दक्षिणी भाग में नहीं लगाना चाहिए, घर के दक्षिणी भाग में लगा हुआ तुलसी का पौधा फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकता है। तुलसी को घर की उत्तर दिशा में लगाना चाहिए। ये तुलसी के लिए शुभ दिशा मानी गई है। अगर उत्तर दिशा में तुलसी का पौधा लगाना संभव न हो तो पूर्व दिशा में भी तुलसी को लगा सकते हैं। रोज सुबह तुलसी को जल चढ़ाएं और सूर्यास्त के बाद तुलसी के पास दीपक जलाना चाहिए।

दूधिया पौधों को ना लगाएं घर में

बरगद और पीपल को हिंदू धर्म में पवित्र माना जाता है, लेकिन मान्यता है कि इन वृक्षों को घर में नहीं लगाना चाहिए। इससे अशुभ फल प्राप्त होता है, इसलिए इसे हमेशा मंदिरों में ही लगाया जाना चाहिए। इन वृक्षों की जड़ें जमीन काफी गहरी जाती हैं, ये फैलते भी बहुत ज्यादा है। ये वृक्ष छोटे घरों को कमजोर कर सकते हैं। इसीलिए इन्हें घर के आसपास लगाने से बचना चाहिए। इन्हें खुले स्थान पर लगाना चाहिए, ताकी ये अच्छी बढ़ सके।

ऊंचे पेड़-पौधों को घर की दक्षिण या पश्चिम दिशा में लगाना चाहिए। ऐसी जगह जहां इन्हें सूरज की भरपूर रोशनी मिले और ये पौधे घर में रहने वालों का रास्ता भी न रोकें। छोटे पौधों को पूर्व या उत्तर दिशा में लगाना चाहिए। छोटे पौधे उत्तर-पूर्व दिशा में लगाने पर शुभ फल मिल सकता है। दूधिया पेड़-पौधों को घर के आंगन में लगाने से बचना चाहिए। दूधिया पेड़-पौधे यानी जिन पौधों से दूध निकलता है। इनके घर में होने से परिवार के सदस्यों की सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper