नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती पर रूहेलखंड विश्वविद्यालय में काव्यांजलि कार्यक्रम का आयोजन

बरेली , 23 जनवरी । क्षेत्रीय अर्थशास्त्र विभाग, महात्मा ज्योतिबा फुले रोहिलखंड विश्वविद्यालय बरेली द्वारा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सुभाष चंद्र बोस जी की 126 बी जयंती पर काव्यांजलि कार्यक्रम का आयोजन पांचाल संग्रहालय में किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ श्रद्धेय कुलपति प्रोफ़ेसर के. पी. सिंह एवं कुलसचिव डॉ राजीव कुमार जी ने सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ किया। इसके पश्चात कवि सम्मेलन का आगाज हुआ। इस अवसर पर आदरणीय कुलपति महोदय ने अपने वक्तव्य में कहा कि सुभाष चंद्र बोस जी का जन्म दिवस पराक्रम दिवस के रूप में मनाया जाता है। उनका जीवन युवाओं के लिए एक प्रेरणा है नेताजी भारत को सशक्त एवं विकसित राष्ट्र के रूप में देखना चाहते थे। इस अवसर पर कुलसचिव डॉ राजीव कुमार जी ने अपने वक्तव्य में कहा की सुभाष चंद्र बोस जी के त्याग और समर्पण का ही परिणाम है कि आज हम सभी आजाद भारत में सांस ले रहे हैं। इस अवसर पर चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ के प्रोफेसर गजेंद्र सिंह जी ने कहा कि आज भारत प्रगति के पथ पर अग्रसर है हम सभी का योगदान है जो कि आज विश्व पटल पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस के सपनों का भारत साकार हो रहा है ।काव्यांजलि कार्यक्रम में आमंत्रित कवि वृंद में श्री प्रवीण राही मुरादाबाद से ,श्रीमती समीक्षा ठाकुर सूरत से, श्री रंजन विशद बरेली से, श्री गोपाल पाठक मीरगंज से ,श्री रणधीर प्रसाद गौड़ बरेली से ,डॉ आशुतोष प्रिय ,डॉक्टर मुकेश मीत एवं श्री सर्वेश पासवान ने अपनी कविताओं के माध्यम से नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए युवाओं में राष्ट्रहित में नवीन जोश का संचार किया ।अंत में एमए अर्थशास्त्र एवं प्रौढ शिक्षा विभाग के छात्र-छात्राओं को टेबलेट वितरित किए गए ।कार्यक्रम का संचालन श्री रंजन विशद एवं नैना ने किया। कार्यक्रम के अंत में डॉ रुचि द्विवेदी ने सभी का आभार व्यक्त किया । काव्यांजलि कार्यक्रम के समापन से पूर्व संकाय अध्यक्ष, क्षेत्रीय अर्थशास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष एवं ने माननीय कुलपति , कुलसचिव एवं आमंत्रित सभी सम्मानित कवियों का स्वागत एवं सम्मान शॉल ओढ़ाकर एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर किया। इस अवसर पर संकाय अध्यक्ष प्रोफेसर एम. के. सिंह, मुख्य नियंता डॉक्टर ए. के. सिंह ,प्रोफेसर रश्मि अग्रवाल, डॉक्टर सुबोध धवन ,डॉ इसरार खान,डॉ रामबाबू सिंह, प्रोफेसर तूलिका सक्सेना, डॉ कामिनी विश्वकर्मा, डॉक्टर पवन सिंह, प्रोफेसर राम यज्ञ मौर्य ,डॉ आलोक ,डॉ कमलेश , ,डॉ जानकी ,श्री तपन वर्मा सहित बड़ी संख्या में शिक्षक एवं छात्र छात्राएं उपस्थित रहे ।इस अवसर पर गजेंद्र ,निदा रहमान, आदित्य, दीक्षित, यशराज आदि छात्र छात्राओं का विशेष योगदान रहा।

बरेली से ए सी सक्सेना की रिपोर्ट

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper