नॉर्थ कोरिया के नए मिसाइल से दुनिया को ज्यादा खतरा

सोल: नॉर्थ कोरिया ने हाल ही में एक अंतर-महाद्वीपीय बलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण कर दुनियाभर में हलचल पैदा कर दी है। दक्षिण कोरिया के अधिकारियों ने दावा किया है कि नॉर्थ कोरिया का यह मिसाइल पहले किए गए उसके सभी मिसाइल परीक्षणों से ज्यादा शक्तिशाली और बड़ा है। नॉर्थ कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी द्वारा जारी की गई तस्वीरों से भी मिसाइल के बारे में कई महत्वपूर्ण संकेत मिलते हैं।

इस मिसाइल का नाम ह्वासोंग-15 है। नॉर्थ कोरिया का दावा है कि यह मिसाइल बड़ी मात्रा में हथियार ले जा सकता है और यह अमेरिका के किसी भी हिस्से को निशाना बना सकता है। वैसे ह्वासांग सीरीज के मिसाइल का टेस्ट नॉर्थ कोरिया पहले भी कर चुका है लेकिन इस बार टेस्ट की जारी की गई तस्वीरों से साफ है कि ह्वासोंग-14 के बाद इस मिसाइल में काफी सुधार किया गया है। पिछले टेस्ट में नॉर्थ कोरिया ने कहा कि उसने अमेरिका तक मार करने वाला मिसाइल बना लिया है।

नियमों की अनदेखी कर धडल्ले से बिक रही सिगरेट

दक्षिण कोरियाई सेना के जॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के प्रवक्ता रो जे-चयॉन ने कहा ‎कि हमारा मानना है कि यह एक नए प्रकार का मिसाइल है। यह ह्वासोंग-14 से बिल्कुल अलग दिखता है। इसका आगे का हिस्सा, पहले और दूसरे स्टेज का लिंक और पूरा आकार काफी बड़ा है। दक्षिण कोरिया ने कहा है कि इस लॉन्च से साबित हो गया है कि नॉर्थ कोरिया का मिसाइल कार्यक्रम काफी आधुनिक हो गया है। निजी विश्लेषकों का कहना है कि ह्वासोंग-15 काफी बड़ा और ह्वासोंग-14 से अडवांस दिखता है।

सोल स्थित एक संस्थान के रक्षा मामलों के विश्लेषक किम डांग-यूब ने कहा कि ऐसा लगता है कि नॉर्थ कोरिया ने ह्वासोंग-14 का अडवांस वर्जन बना लिया है, जो पहले स्टेज के अलग होने के बाद मिसाइल को स्पेस में ले जा सकता है। किम ने एक और महत्वपूर्ण बात कही। उन्होंने कहा कि ह्वासोंग-15 में दो इंजन हो सकता है, जिस वजह से यह पहले के मिसाइल से अलग ज्यादा दूर तक वार करने में सक्षम हो गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper