नोटबंदी के दौरान भिंड के जैन बंधुओं ने किया डाकघर में करोड़ों का घोटाला

दिल्ली ब्यूरो: पीएनबी घोटाले से तरबतर होते देश में एक खबर मध्यप्रदेश के भिंड से आ रही है। खबर के मुताबिक़ मध्य प्रदेश के भिंड जिले के एक डाकघर में करोड़ों रुपये का घोटाला सामने आया है। घोटाला सामने आने के बाद वहां का रिकॉर्ड सील कर दिया गया है। खबर मिलते ही मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। जानकारी के मुताविक शिवराज सरकार के अमले वहाँ पहुँच गए हैं।

गौरतलब है कि चंबल संभाग डाकघर अधीक्षक एसके पाण्डेय ने बताया कि गल्लामंडी स्थित डाकघर में करोड़ों रुपये का फर्जीवाड़ा सामने आया है। डाकघर एजेंट बेबी जैन के पति रमेश जैन ने पोस्टमास्टर प्रमोद सिंह भदौरिया के साथ साठगांठ कर खाताधारकों के खाते से करोड़ों रुपये निकाल लिए और खाते बंद कर दिए।

सूत्रों के मुताबिक फर्जीवाड़ा वर्ष 2016 में नोटबंदी के बाद से चल रहा था। सभी खातों को आधार कार्ड से लिंक कराए जाने की सूचना के चलते एजेंट को डाकघर में व्यापारियों के पैसा नहीं जमा कराने का अंदेशा हुआ, जिसके चलते उसने इस फर्जीवाड़े को अंजाम देना शुरू कर दिया।

एजेंट अपने पति और परिवार के साथ फरार है। सूत्रों के मुताबिक दंपति ने यह राशि अपने दोनों बेटों दीपक जैन और मोनू जैन को सौंपकर बड़ा कारोबार शुरू करा दिया। खबर के मुताविक डाकघर के लुटे धन से जैन बंधू अपना बड़ा व्यापार कर रहे हैं। उधर पोस्टमास्टर प्रमोद सिंह के बारे में सुचना मिल रही है कि घोटाले के पैसे में आधी रकम लेकर वे भी अपना कारोबार फैला रखे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper