न मिली एम्बुलेंस, न मिला स्ट्रेचर, कंधे पर ले जाना पड़ा युवक का शव

संभल: उत्तर प्रदेश में एक बार फिर डॉक्टरों की असंवेदनशीलता सामने आई है। मामला प्रदेश के संभल जिले से है जहां डॉक्टरों ने एक गरीब परिवार के युवक की लाश को घर तक पहुंचाने के लिए एंबुलेंस देने से मना कर दिया। इसके बाद युवक के परिजनों ने शव को बाइक पर रखकर घर तक ले गए।

मिली जानकारी के मुताबिक, संभल के एक गांव के रहने वाले सूरजपाल अपने दादा के साथ खेत में काम कर रहा था, इसी दौरान वह हादसे का शिकार हो गया। परिजन उसे तुरंत हॉस्पिटल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद डॉक्टरों ने मृतक के परिजनों से शव ले जाने के लिए कहा।

सूरजपाल के परिजनों ने बताया कि डॉक्टरों ने हमसे शव को तुरंत ले जाने को कहा था, हमने शव को अपने कंधों पर उठाया क्योंकि हॉस्पिटल ने स्ट्रेचर भी उपलब्ध नहीं करवाया, इसके बाद हम उसे बाइक पर लेकर आए क्योंकि एंबुलेंस के लिए भी मना कर दिया गया था। हालांकि हॉस्पिटल अथॉरिटी ने इस बात से साफ इनकार किया है। उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों ने हॉस्पिटल की सभी औपचारिकताएं भी पूरी नहीं की और बिना बताए ही चले गए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper