पंचायत चुनाव: निर्वाचन आयोग ने जिलाधिकारियों और पुलिस कप्तानों को दिए कड़े निर्देश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने गुरुवार को प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों और जिला पुलिस प्रमुखों को कड़े निर्देश दिए। राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने उन्हें मतदान केंद्रों का खुद निरीक्षण करने का निर्देश दिया है।

राज्य निर्वाचन आयुक्त आज वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये चुनाव तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि चुनाव के समय यदि कहीं भी कोई अप्रिय घटना होती है तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। निर्वाचन आयुक्त ने अवांछनीय व्यक्तियों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने और निरोधात्मक कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया है। साथ ही शस्त्र के दुकानों का औचक निरीक्षण करने को भी कहा है। उन्होंने जिलाधिकारियों से यह भी कहा कि चुनाव के लिए मतगणना केंद्र बनाते समय यूपी बोर्ड की परीक्षा का पूरा ध्यान रखा जाए।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग में उपस्थित अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा ने चुनाव के वक्त अभी से अवैध शराबों की बिक्री पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया। वहीं पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने पुलिस अधिकारियों सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखने को कहा। राज्य निर्वाचन आयोग से जुड़े सूत्रों का कहना है कि आयोग होली के आस पास त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तिथियां घोषित करने की तैयारी में है। दरअसल निर्वाचन आयोग यूपी बोर्ड की परीक्षा से पहले ही चुनाव को संपन्न करा लेना चाहता है। बोर्ड की परीक्षाएं 24 अप्रैल से होने वाली हैं।

राज्य सरकार 26 मार्च को आरक्षण की अंतिम सूची प्रकाशित कर उसे निर्वाचन आयोग को उपलब्ध कराने का संकेत दिया है। ऐसे में यदि सब कुछ ठीक रहा तो आयोग होली से एक दिन पहले या एक दिन बाद चुनाव की तारीखों का एलान कर आचार संहिता लागू करने की घोषणा कर देगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper