पटना की हालत चिंताजनक, तेजी से फैल रहा दक्षिण अफ्रीकी ओमिक्रॉन वैरिएंट

पटना: पटना में कोरोना का दक्षिण अफ्रीकी ओमिक्रॉन वैरिएंट तेजी से पांव पसार रहा है। रविवार को राज्य में ओमिक्रॉन की पुष्टि वाले 27 मरीजों में से बीस पटना के ही विभिन्न मोहल्लों के हैं। इसमें आईजीआईएमएस से पांच, कंकड़बाग पीसी कॉलोनी से एक, पटना सिटी के सुल्तानगंज इलाके से दो, दानापुर से एक के अलावा बुद्धा कॉलोनी, शास्त्रीनगर आदि इलाकों के हैं।

विशेषज्ञों का भी अनुमान है कि दक्षिणी अफ्रीकी ओमिक्रॉन वैरिएंट के चलते ही पटना में इतनी तेजी से संक्रमण फैला है। आईजीआईएमएस माइक्रोबायोलॉजी विभागाध्यक्ष डॉ. नम्रता ने बताया कि दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट का प्रसार बहुत तेजी से होता है। इसीलिए इसे सुपर स्प्रेडर कहा जा रहा है। यह चिंताजनक है।

संक्रमण का बढ़ता जा रहा है दायरा
ओमिक्रॉन की वजह से पटना में संक्रमण दर बढ़कर 22 प्रतिशत के करीब पहुंच गयी है। जब तक संक्रमित व्यक्ति की रिपोर्ट आती है तब तक पूरा परिवार संक्रमित हो चुका होता है। पटना में अभी कई घरों में पूरा परिवार संक्रमित हो चुका है। यह बढ़ता ही जा रहा है।

सर्दी-खांसी हो तो जांच कराएं
ऐसे में चिकित्सक सर्दी-खांसी जैसे लक्षण दिखते ही अपनी जांच कराने व अपने को परिवार के अन्य सदस्यों से दूरी बनाने की सलाह दे रहे हैं। उन्होंने होम आइसोलशन के दौरान विशेषज्ञों से सावधानी बरतने की सलाह दी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper