पटाखा फैक्टरी में भयानक विस्फोट के बाद 7 लोग जिंदा जले, मां के साथ 3 साल की बच्ची की भी मौत

ऊना: हिमाचल प्रदेश के ऊना में पटाखा फैक्टरी में हुए विस्फोट में 7 कामगारों की जिंदा जलकर मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन मौके पर पहुंच गया है। साथ ही फायर टीम ने राहत-बचाव का कार्य भी शुरू कर दिया है। जानकारी के अनुसार, यह भयानक हदासा मंगलवार सुबह ऊना जिले के टाहलीवाल की पटाखा फैक्टरी में हुआ। जिस वक्त मजदूर फैक्ट्री में काम कर रहे थे, उसी दौरान अचानक विस्फोट हो गया। जिसमें 7 की तो मौत हो गई, वहीं कुछ मजदूर गंभीर रुप से झुलस गए।

मृतकों में एक तीन साल की बच्ची भी शामिल है और वह ब्लास्ट के दौरान अपनी मां के साथ थी। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, मृतक महिलाएं उत्तर प्रदेश की बताई जा रही हैं, जो ऊना की फैक्ट्री में मजदूरी करते थीं। हादसे में झुलस मजदूरों को इलाज के लिए जिला अस्पताल ऊना भेजा गया है। डीएसपी हरोली अनिल पटियाल ने बताया कि मौके पर जांच की जा रही है। सभी पहलुओं की गहनता से जांच की जा रही है। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। अभी तक यह नहीं पता चल सका है कि यह धमाका आखिर किस वजह से हुआ है।

फैक्ट्री के बाहर बड़ी संख्या में लोग भी जुटे हुए हैं। स्थानीय पंचायत की महिला प्रधान का कहना है कि ये फैक्ट्री अवैध है और इसके लिए हमारे से कोई एनओसी नहीं ली गई थी। वहीं, ऊना के हरोली से कांग्रेस विधायक और नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने पूरे मामले पर मृतकों के प्रति संवेदना जताई है और मृतकों को मुआवजा देने की मांग की है। साथ ही उन्होंने घटना को लेकर सवाल उठाए हैं और विधानसभा में मुद्दा उठाने की बात कही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper