पत्नी की जीत के लिए पतियों ने एक किया खेत-खलिहान

बलिया । त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में किस्मत आजमा रहीं अधिकतर महिलाओं के प्रचार का जिम्मा उनके पतियों के कंधों पर है। पूर्वांचल के बलिया जिले में पत्नी की जीत सुनिश्चित करने के लिए पतियों ने पूरी ताकत झोंक दी है। बलिया में 26 अप्रैल को पंचायत चुनाव होना है। इसी बीच खेतों में खड़ी फसल भी पक कर तैयार हो गई है। ग्रामीण इलाका होने के कारण अधिकांश वोटर फसल की कटाई और मड़ाई में व्यस्त हैं। इस वजह से प्रत्याशियों व उनके समर्थकों को खेतों की भी खाक छाननी पड़ रही है.

पंचायत चुनाव में आरक्षण के कारण आधी आबादी को भी किस्मत आजमाने का मौका मिला है। महिलाओं के खाते में गईं कई सीटों पर चुनाव लड़ने के इच्छुक पुरुष उम्मीदवारों ने अपनी मां या फिर पत्नियों को चुनावी मैदान में उतारा है। जिला पंचायत सदस्य से लेकर क्षेत्र पंचायत और प्रधान पद के लिए प्रचार में प्रत्याशी व उनके समर्थक गांवों से लेकर खेत-खलिहानों तक घूम रहे हैं। कई सीटों पर तो महिला प्रत्याशी अपने चुनाव प्रचार का जिम्मा खुद अपने कंधे पर लेकर घूम रही हैं। वहीं कई सीटों पर उनके पति या पुत्र पूरे दमखम से प्रचार कर रहे हैं।

जिला पंचायत के लिए वार्ड नम्बर 56 से इंदू पाण्डेय ने दावेदारी ठोंकी है। यहां मुख्य रूप से उनके प्रचार की कमान उनके पति अजय पाण्डेय के कंधों पर है। वे रोज सुबह अपने समर्थकों के साथ क्षेत्र में निकल जाते हैं। गांव के अंदर जब वोटर नहीं मिलते हैं, तो वे खेतों की ओर रुख कर लेते हैं। सीधे खेत में ही पहुंच कर अपनी पत्नी के समर्थन में वोट की गुहार लगाते हैं। हालांकि, उनकी पत्नी इंदू पांडेय भी महिला टोली के साथ निकलती हैं। ऐसे ही कई और महिला प्रत्याशी हैं, जिनके पति भी प्रचार की पूरी जिम्मेदारी उठा रहे हैं।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper