पत्नी को मनचाही सीट से टिकट नहीं मिला तो घर में कैद हुए क्षुब्ध सिद्धू, लोगों से मिलना-जुलना छोड़ा

नई दिल्ली: पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पिछले 20 दिनों से सारे काम छोड़कर चुपचाप अज्ञातवास में चले गए हैं। वह कांग्रेस के किसी भी नेता से संपर्क में नहीं हैं। सूत्रों के अनुसार वह अपनी पत्नी नवजोत कौर को उनकी पसंद की चंडीगढ़ सीट से टिकट नहीं मिलने से नाराज हैं। पत्नी को लोकसभा टिकट नहीं दिए जाने से क्षुब्ध सिद्धू ने अपने आपको घर तक ही सीमित कर लिया है। वह किसी से मिल-जुल नहीं रहे हैं।

इस सीट से कांग्रेस ने वरिष्ठ नेता पवन बंसल को उम्मीदवार बनाया है। पहले चर्चा थी कि नवजोत कौर को अमृतसर सीट से टिकट दिया जा सकता है, जहां से अमरिंदर सिंह ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के अरुण जेटली को हराया था। लेकिन इन चर्चाओं पर भी तब विराम लग गया जब मंगलवार रात कांग्रेस ने अमृतसर लोकसभा सीट से गुरजीत सिंह ओजला को टिकट दे दिया।

सन 2014 में अमृतसर से अरुण जेटली को उम्मीदवार बनाए जाने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने भारतीय जनता पार्टी छोड़ दी थी। सिद्धू ने पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी का हाथ थाम लिया था। बताया जा रहा है कि मोगा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की रैली में उन्हें बोलने के लिए आमंत्रित नहीं करने पर भी वह नाराज हैं। इसके साथ ही उनके करीबी सूत्रों ने बताया कि वह इस बात से भी नाराज हैं कि वह छत्तीसगढ़ के लिए पार्टी के स्टार प्रचारकों की सूची में नहीं हैं, हालांकि वह देश भर में चुनाव प्रचार की मांग में बने हुए हैं।

पिछले कुछ महीनों में नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के रिश्तों में खटास आई है। इसके पीछे नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान और वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान पर दिए गया बयान है। देश के बजाय इमरान खान के साथ अपनी दोस्ती को तवज्जो देने पर पार्टी ने कथित तौर पर उन पर कुछ बंदिशें लगा दीं। 13 लोकसभा सीटों वाले पंजाब में कांग्रेस के पास अभी चार सीटे हैं, वहीं अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को भी चार सीटें मिली थीं।

इसके अलावा बाकी की सीटें अकाली-भाजपा गठबंधन को मिली थीं। बता दें, कांग्रेस ने मंगलवार देर रात अपने 20 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की है। कांग्रेस ने पूर्व रेलमंत्री पवन कुमार बंसल को चंडीगढ़ लोकसभा सीट से जबकि पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की पत्नी एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री परणीत कौर को पटियाला लोकसभा सीट से मंगलवार को टिकट दिया। वहीं गुरदासपुर से सांसद सुनील जाखड़, अमृतसर से गुरजीत सिंह ओजला, लुधियाना से रवनीत सिंह बिट्टू और जालंधर से संतोष सिंह चौधरी को उम्मीदवार बनाया है। होशियारपुर से पार्टी ने राजकुमार छब्बेवाल को टिकट दिया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper