पत्रकारों के लिए ऑनलाइन श्वास और ध्यान कार्यशाला आयोजित

लखनऊ: आज दुनिया को महामारी से लड़ने के साथ-साथ पत्रकार बंधु समय सीमा के अनुपालन, अनियमित काम के घंटे और लंबे कार्य के समय के साथ अपने जीवन को भी जोखिम में डाल रहे हैं। सटीक समाचारों को रिपोर्ट करने और सटीक समाचार प्रस्तुत करने का दबाव थकान, कम उत्पादकता, रचनात्मकता की कमी, उन्हें तेजी से बिगड़ते हुए स्वास्थ्य और तनाव के चक्र में ला रही है।

ऐसे में आर्ट ऑफ़ लिविंग की ओर से तीन दिवसीय एक विशेष ऑनलाइन श्वास और ध्यान कार्यशाला में आमंत्रित कर रहे हैं जो कि विशेष रूप से पत्रकारों के लिए आयोजित हो रही है।

इंटरएक्टिव सत्रों के साथ-साथ यह कार्यक्रम तनाव-मुक्त जीवन के लिए डिज़ाइन किया गया है जिसमें ध्यान, योग और प्राणायाम का एक अनूठा मिश्रण है, और सुदर्शन क्रिया नाम की शक्तिशाली लयबद्ध सांस लेने की तकनीक भी निहित है, जिसका अभ्यास 4.5 मिलियन लोग करते हैं।

यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है कि सुदर्शन क्रिया के नियमित अभ्यास से चिंता, अवसाद कम होता है, कोलेस्ट्रॉल कम होता है और मस्तिष्क की कार्यक्षमता बढ़ती है। यह कार्यक्रम पत्रकारों के शारीरिक, मानसिक स्वास्थ्य में सुधार लाएगा और आपके संगठन की बेहतर उत्पादकता सुनिश्चित करेगा।

अगर आप भी जुड़ना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक करें https://tinyurl.com/MediaAOLHindi

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper