पद्मावत’ की स्क्रीनिंग के लिए दिल्ली में कड़ी सुरक्षा

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को कहा कि विवादित फिल्म ‘पद्मावत’ की रिलीज के संबंध में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की की गई है। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर राजधानी में पहले से ही दिल्ली पुलिस के विशेष कमांडो और अर्धसैनिक बल शहर में विशेष रूप से मध्य दिल्ली के अति विशिष्ट क्षेत्रों में तैनात किए गए हैं।

पुलिस ने कहा कि सुरक्षाबलों को सिनेमाघरों और मल्टीप्लेक्स में तैनात किए गए हैं और जैसा कि दिल्ली से सटे गुरुग्राम में ‘पद्मावत’ की रिलीज के विरोध में हिंसा की खबरें आई, सुरक्षाबल हाई-अलर्ट पर हैं। विशेष पुलिस आयुक्त दीपेंद्र पाठक ने आईएएनएस को बताया, “राजधानी में ‘पद्मावत’ की स्क्रीनिंग के मद्देनजर हमने पर्याप्त और उचित व्यवस्था की है।”

उन्होंने कहा, “हम विभिन्न बड़े और छोटे सिनेप्लेक्स प्रबंधन के संपर्क में हैं। ” पाठक ने कहा कि स्थानीय खुफिया एजेंसी, जिलों के डीसीपी, पुलिस स्टेशन और संबंधित क्षेत्रों के अधिकारियों को कानून व्यवस्था बनाए रखने और किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। पाठक ने कहा कि उन्होंने करणी सेना के समर्थकों और अन्य संगठनों से सर्वोच्च अदालत के फैसले को मानने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि हालांकि, गुरुग्राम, फरीदाबाद और नोएडा में कुछ स्कूलों के बंद होने की खबरें हैं, जबकि उन स्कूलों के दिल्ली ब्रांच खुले हुए हैं। दिल्ली में सभी स्कूल खुले हुए हैं। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त बी.के.सिंह ने आईएएनएस को बताया कि राजधानी में विशेष रूप से नई दिल्ली इलाके में जहां शुक्रवार को परेड होगी, वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। श्री राजपूत करणी सेना ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ का आरोप लगाकर लगातार ‘पद्मावत’ की रिलीज का विरोध करती आई है।

कई राज्यों से हिंसा की खबरें आई हैं और गुरुग्राम में बुधवार को बच्चों को ले जा रही स्कूल बस पर प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper