पद्मावत के विरोध में लखनऊ में करणी सेना ने किया प्रदर्शन, फूंका भंसाली का पुतला

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के राजाजीपुरम् स्थिति क्षत्रिय लॉन मे रविवार को राम सेवा समिति क्षत्रिय समाज की बैठक का आयोजन किया गया बैठक की अध्यक्षता कर रहे समिति के अध्यक्ष एस. के.डी. सिंह ने पद्मावती फिल्म को देश में रिलीज करने पर बैन लगाने की चर्चा करने के बाद फिल्म की निंन्दा करते फिल्म के विरोध मे फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली का पुतला एम. आई. एस. चौराहा पर जलाकर विरोध किया फिल्म के निर्देशक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

यह भी देखें: इम्पीरियल ब्लू सुपरहिट नाइट्स सीजन 4 में फरहान ने मचाई धूम

क्षत्रिय समाज के पदाधिकारियो ने 25 जनवरी को फिल्म पद्मावती रिलीज होने पर हर सिलेमाहाल पर विरोध प्रदर्शन करने की घोषणा की गई । इस अवसर पर समिति के श्याम जीत सिंह,दीप प्रकाश सिंह, बी. एल. सिंह,किरन कुमार सिंह विक्की,श्याम सिंह राठौर सहित आदि सेकड़ो क्षत्रिय समाज के लोग उपस्थित रहे। करणी सेना के किया प्रदर्शन- श्री राजपूत करणी सेना के तत्वावधान में पद्मावत फिल्म के विरोध में हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा दिया गया। सेना ने चेतानवी दी है कि यदि सरकार ने फिल्म पर प्रतिबंध नहीं लगाया तो उग्र आन्दोलन किया जाएगा।

इसे भी पढ़िए: दोस्तों ने पहले पी पिलाई शराब और उसके बाद किया वह काम जिसे सुनकर आप भी रह जाएंगे हैरान

राजपूत करणी सेना के लखनऊ जनपद के संरक्षक परिजात सिंह व सचिव आनन्द सिंह चौहान सेना के प्रदेश संरक्षक वकील सिंह के नेतृत्व में पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमण्डल सोमवार को मुख्यमंत्री से मिलकर अपना विरोध दर्ज करेगा। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पद्मावत फिल्म सभी समाज के लोगों को आहत कर रही है। फिल्म के प्रदर्शन से समाज में मतभेद बढ़ेगा। धरने में सेना के मण्डल संयोजक वीरेन्द्र सिंह, डीएस तोमर, ज्ञानेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘गोरे’, प्रतीक सिंह, राकेश सिंह रघुवंशी, सीमा सचान व मिथलेस सिंह व कई लोग मौजूद थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper