‘पद्मावत’ पर हंगामा निवेश के लिए बुरा: केजरीवाल

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को राजपूत समूह के हिंसक प्रदर्शन के बीच विवादास्पद फिल्म ‘पद्मावत’ की सुरक्षित रिलीज को सुनिश्चित करने में केंद्र और राज्य सरकारों की असमर्थता पर सवाल उठाए। केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, “अगर सभी राज्य सरकारें, केंद्र सरकार और सर्वोच्च न्यायालय एक साथ मिलकर एक फिल्म की सुरक्षित रिलीज नहीं करा सकते और इसे चला नहीं सकते तो हम कैसे निवेश के प्रवाह की उम्मीद कर सकते हैं।”

उन्होंने कहा, “विदेशी निवेश (एफडीआई) को तो भूल ही जाइए, यहां तक कि स्थानीय निवेशक भी दुविधा में होंगे। यह पहले से ही कमजोर अर्थव्यवस्था के लिए अच्छा नहीं है। नौकरियों के लिए भी खराब है।” यह ट्वीट ‘पद्मावत’ का मुखर रूप से विरोध कर रही करणी सेना की लगातार धमकियों के बाद आया है। सेना ने कहा है कि उसके कार्यकर्ता संजय लीला भंसाली के निर्दशन में बनी फिल्म को सिनेमा घरों में प्रदर्शित नहीं होने देंगे क्योंकि फिल्म में राजपूत रानी पद्मावती की छवि का चित्रण कम सम्मानित किया गया है।

उधर, सर्वोच्च न्यायालय द्वारा फिल्म ‘पद्मावत’ की रिलीज को पूरे भारत में प्रदर्शन करने की अनुमति देने के बावजूद करणी सेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कलवी ने बुधवार को कहा कि राजपूत संगठन संजय लीला भंसाली की फिल्म को रिलीज नहीं होने देगा। कलवी ने कहा, “हम अपने उस रुख पर अटल हैं कि इस फिल्म पर प्रतिबंध लगा दिया जाना चाहिए। 25 जनवरी आए और जाए लेकिन हम फिल्म रिलीज नहीं होने देंगे, चाहे कुछ भी हो जाए।”

उन्होंने ‘मां-रानी पद्मावती के अपमान पर’ लोगों से फिल्म का बहिष्कार करने के लिए खुद से कर्फ्यू लगाने का आह्रान किया। फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के नाम पर हो रही हिंसा के बारे में पूछे जाने पर कलवी ने कहा कि यह दुखद है लेकिन इसके लिए भंसाली जिम्मेदार हैं। आपको बता दें कि संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को लेकर जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं। बुधवार को यूपी, महाराष्ट्र, गुजरा, राजस्थान और मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों में प्रदर्शन हुए। यूपी के मथुरा में जहां करणी सैनिकों ने भूतेश्वर रेलवे स्टेशन पर हंगामा किया वहीं लखनऊ में भी विरोध के चलते भारी सुरक्षा इंतजाम नजर आए।

राजस्थान में करणी सैनिकों ने दिल्ली-जयपुर हाईवे जाम कर दिया जबकि गुड़गांव के वजीरपुर-पटौदी रास्ते पर भी टायरों में आग लगाकर रास्ते रोक दिए। स्थिति को देखते हुए गुड़गांव में माॉल्स और मल्टीप्लेक्स की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इस बीच करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्रसिंह कल्वी ने फिर कहा है कि वो अपने कदम पर कायम हैं कि पद्मावत पर पूरे देश में प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोग देश में स्वप्रेरिक कर्फ्यू लगाएं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper