पर्दे पर सेक्स सीन दिखाने को लेकर एकता कपूर ने दिया यह जवाब

मुंबई: टीवी और फिल्मों में अपनी धाक जमा देने के बाद एकता कपूर अब वेब सीरीज की दुनिया में भी पीछेे नहीं रहना चाहतीं। इसी कड़ी में एकता कपूर अपनी आगामी वेब सीरीज ‘अपहरण’ के रिलीज की तैयारी कर रही हैं। एकता ने एएलटी बालाजी की वेब सीरीज के कलाकारों अरुणोदय सिंह, निधि सिंह और माही गिल के साथ मीडिया से बातचीत की। एकता ने कहा कि अपहरण का शूट अभिनेता और टेक्निशियन के लिए बहुत कठिन था। इसकी शूटिंग हरिद्वार में हुई। एकता ने अपने आलोचकों को जवाब देते हुए कहा है कि दुनियाभर में किसी भी लोकप्रिय चीज की हमेशा आलोचना की जाती है।

एकता की हमेशा इस बात को लेकर आलोचना की जाती है कि वह अपने शो के माध्यम से अंधविश्वास और यौन सामग्री दिखाती हैं। इस पर एकता ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि पर्दे पर बोल्ड कंटेंट दिखाती हूं| स्क्रीन पर सेक्स दिखाना गलत नहीं है। हमें ऐसा कंटेंट दिखाने में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए| मुझे लगता है कि हमारे देश के साथ समस्या यह है कि हमारे पास दांतों के दो सेट हैं… एक दिखाने के लिए और दूसरा चबाने के लिए। हमें गैर-सहमति के संबंध और यौन अपराधों के साथ समस्या होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि जहां तक अंधविश्वास का सवाल है,’नागिन’ एक काल्पनिक शो है। मुझे ‘हैरी पॉटर’ और गेम ऑफ थ्रोन्स’ पसंद है। हम उस स्तर के इफेक्ट्स नहीं दिखा पाते हैं क्योंकि हमारा बजट उनकी तुलना में 1/100 है| जिस दिन हम उस तरह के बजट को हासिल कर लेंगे, हम उस तरह के सीन दिखा देंगे। हम अपनी कहानी पर काफी काम करते हैं और यही वजह है कि ‘नागिन’ इतना बड़ा हिट है। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया में लोकप्रिय चीजों की आलोचना की जाती है।

आलोचना के डर के बिना आप एक भी कदम आगे नहीं बढ़ा सकते। साल 2018 फिल्मों से अधिक वेब सीरीज के मामले में काफी दिलचस्प रहा है। खासकर क्राइम,गाली-गलौज और बोल्ड सीन से लबरेज वेब सीरीज को दर्शकों के बीच ज्यादा चर्चा मिली है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper