पहले मां से बढ़ाई पहचान, फिर नाबालिग बेटी से किया दुष्कर्म

भोपाल: राजधानी भोपाल में 16 साल की नाबालिग से गैंगरेप का मामला सामने आया है। गैंगरेप एक आरोपित 22 साल का है, जबकि उसका दोस्त दूसरा आरोपित 50 साल का बताया जाता है। आरोपित करीब 15 दिन तक नाबालिग को यहां-वहां घुमाता रहा। उसे पेट दर्द होने पर वह उसे उसकी मौसी के घर छोड़कर भाग गए। नाबालिग ने देर रात परिजनों के साथ टीला जमालपुरा थाने में आरोपितों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई।

टीला जमालपुरा थाना प्रभारी राधेश्याम रेंजर ने बताया कि 16 वर्षीय नाबालिग कृष्णा नगर में अपनी मां के साथ रहती है। पिता की मौत के बाद उसकी मां ही प्राइवेट काम करके उसका लालन-पालन करती है। कभी-कभी वह मां की मदद के लिए उनके साथ काम पर चली जाती थी। करीब डेढ़ साल पहले मां की मुलाकात हबीबगंज में रहने वाले 22 साल के आरोपित सागर रैकवार से हुई थी।

उसने मां का मोबाइल नंबर ले लिया था। सागर बीच-बीच में महिला को फोन करता रहता था। फिर वह घर आने लगा। उनकी फोन पर भी बात होती थी। इसके कारण उसकी पहचान हो गई। पिछले साल जब मां घर पर नहीं थी, तब सागर आया और उसने लड़की से रेप किया। इसके बाद वह लगातार कभी उसके घर और कभी दूसरी जगह ले जाकर दुष्कर्म करता रहा। करीब 15 दिन पहले बहला-फुसलाकर वह अपने साथ ले गया था और इस दौरान उसने अलग-अलग जगह पर रेप किया।

रविवार दोपहर वह नाबालिग को अपने एक परिचित जफर के यहां ले गया। सागर ने उनसे कहा कि वह मकान ढूंढने जा रहा है तब तक इसे अपने यहां रख लो। सागर के जाते ही 50 वर्षीय जफर ने भी नाबालिग लड़की के साथ रेप किया। करीब 5 घंटे बाद सागर लौटा तो लड़की ने उसको सब कुछ बता दिया। उसने बताया कि उसे पेट में तकलीफ हो रही है। इसके बाद वह उसे उसकी मौसी के घर छोड़कर भाग गया।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper