पायलट ने बीजेपी के साथ मिलकर सरकार गिराने का षड्यंत्र किया: कांग्रेस

जयपुर: राजस्थान में शुरू सियासी संकट और गहराता जारहा है. मंगलवार को कांग्रेस ने सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पायलट पर भाजपा के साथ मिलकर सरकार गिराने का आरोप लगाया है. पत्रकारों से बात करते हुए गहलोत ने कहा, ‘ हॉर्स ट्रेडिंग जयपुर में की जा रही थी, हमारे पास इसका सबूत है. हमें 10 दिनों तक लोगों को एक होटल में रखना था, अगर हमने ऐसा नहीं किया होता, तो अब मानेसर में जो हो रहा है, वही हुआ होगा.’

उन्होंने कहा, ‘ मैं 40 साल से राजनीति में हूं, हम नई पीढ़ी से प्यार करते हैं, भविष्य उनका होगा. यह नई पीढ़ी, वे केंद्रीय मंत्री, राज्य अध्यक्ष बन गए हैं, अगर वे हमारे समय में क्या करते थे, तो वे समझ गए होते.’ पायलट पर निशाना साधते हुए गहलोत ने आगे कहा, ‘ अच्छी अंग्रेजी बोलना, अच्छी बाइट देना और खूबसूरत होना सब कुछ नहीं है. देश के लिए आपके दिल के अंदर क्या है, आपकी विचारधारा, नीतियां और प्रतिबद्धता, सब कुछ माना जाता है.’

कांग्रेस द्वारा लगातार कहा जा रहा है कि पायलट भाजपा में शामिल होने वाले है. इसं आरोपों से इनकार करते हुए पायलट ने कहा, मै भाजपा में नही जाने वाला हूँ, मेरी छवि ख़राब करने की कोशिश की जारही है.’ उन्होंने कहा, ‘ मैंने पार्टी को नही तोड़ा, केवल अपनी समस्याओं को केंद्रीय नेतृत्व के सामने रखा था.’वहीं सचिन पायलट के भाजपा में नहीं जाने के बयान पर बोलते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘ हमने सचिन पायलट का बयान देखा है कि वह बीजेपी में शामिल नहीं होंगे। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि यदि आप ऐसा नहीं चाहते हैं, तो तुरंत भाजपा के हरियाणा सरकार के सुरक्षा कवर से बाहर आएं, उनके साथ सभी बातचीत बंद करें और जयपुर में अपने घर वापस आएं.’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper