पिता थे चौथी पास, लेकिन परिवार के 11 सदस्यों को IAS , IPS से लेकर कई अन्य विभागों का बड़ा अधिकारी बना दिया

दुनिया के हर माँ बाप का सपना होता है कि उनके बच्चे बड़े होकर कुछ ऐसा काम करें जिससे उनका नाम रोशन हो। हर माँ बाप अपने बच्चों को बड़ा होकर एक ऑफिसर के रूप में देखना चाहता है। लेकिन हर कोई IAS या IPS जैसे ऑफिसर नहीं बन सकता । आज अगर आपके घर में एक भी व्यक्ति IPS या IAS अधिकारी बन जाए तो वो आपके पूरे खानदान के लिए गर्व की बात होती हैं। ज़रा सोचिए की आपको कैसे लगेगा जब आपको पता चलेगा कि एक ही परिवार के 11 लोग IAS, IPS या किसी अन्य अधिकारी पद पर है।

यह किसी भी हिसाब से कोई सपने से कम नही है । लेकिन इस सपने को हरियाणा के जींद जिले के एक परिवार ने साकार किया है जहाँ एक ही परिवार के 11 लोग IAS,IPS एवं कलास वन अधिकारी पद पर है। परिवार में इतने लोगों का कामयाब होने के श्रेय उस परिवार के एक आदमी को जाता है जो खुद IAS या IPS तो नहीं है लेकिन अपने घर के बाकी लोगों को सफलता दिलाने के लिए जी तोड़ मेहनत की । आइए जानते हैं पूरी कहानी।

आज हम चौधरी बसंत सिंह श्योकंद जी का बात कर रहें हैं जो हरियाणा की जींद जिले के रहने वाले है। बसंत सिंह की पढाई की बात करें तो वह केवल चौथी पास है । चौधरी बसंत सिंह अपने इच्छा शक्ति और बड़े बड़े ऑफिसरों के संगत में रहकर , उन्होंने भी सपना देखा कि उनके बच्चे भी बड़े होकर ऑफिसर बने । भले ही बसंत जी उतने पढ़े लिखे नहीं थे, लेकिन उन्होंने अपने उस सपने को पूरा कर दिखाया । आज बसंत सिंह को सिर्फ गांव वाले नही बल्कि बाकी लोग भी उनके कायल हो चुके हैं ।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चौधरी बसंत सिंह चौथी तक के ही पढ़े लिखे थे। इस वर्ष मई में 99 वर्ष के उम्र में उनका निधन हो गया पर उन्होंने अपने बच्चों और परिवार के लिए जो भी किया उसके लिए उन्हें युगो- युगो तक याद किया जाएगा। न्यूजपेपर दैनिक जागरण के अनुसार बसंत सिंह जी का बड़ा बेटा रामकुमार श्योकंद हरियाणा के बड़े कॉलजे के रिटायर्ड प्रोफेसर है, और उनका ओर एक बेटा यशेद्र IAS ऑफिसर के पद पर तैनात है। वहीं उनकी बेटी सिम्ति तिवारी रेलवे एसपी के पद पर तैनात है। बसंत सिंह के एक और बेटे कॉन्फ्ड में जीएम थे और उनकी पत्नी डिप्टी डीइओ रह चुकी है। इस तरह से उनके परिवार का हर सदस्य कोई न कोई अधिकारी पद पर काम कर रहा है, जो सिर्फ बसंत सिंह के लिए नहीं बल्कि पूरे देश और समाज के लिए गर्व की बात है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper