पीएम की वेबसाइट नए कलेवर में दिखेगी, भारतीय और विदेशी भाषाओं को किया जाएगा शामिल

नई दिल्ली: भारत सरकार की ओर से प्रधानमंत्री की आधिकारिक वेबसाइट में बदलाव किए जाने के लिए प्रस्ताव मांगे गए हैं. अब पीएम की वेबसाइट नए कलेवर में दिखेगी. सरकार की ओर से जारी प्रस्ताव के मुताबिक, अब प्रधानमंत्री की वेबसाइट को संयुक्त राष्ट्र की 6 आधिकारिक भाषाओं और 22 भारतीय भाषाओं में देखा जा सकेगा.

भारत सरकार की ओर से गुरुवार को एजेंसियों से प्रधानमंत्री की वेबसाइट के पेज में बदलाव का प्रस्ताव रखा गया. जिसमें भाषाओं की संख्या को बढ़ाया जाना है, साथ ही डिजाइन में बदलाव होना है. इससे पहले भारत के प्रधानमंत्री की वेबसाइट को 12 भाषाओं में पढ़ा जा सकता था.

सरकार की ओर से इस वेबसाइट को डिजाइन करने के लिए कंपनी की तलाश की जा रही है, इसके लिए नेशनल ई-गवर्नेंस डिविजन की ओर से एक प्रपोजल भी तैयार किया गया है. डॉक्यूमेंट के अनुसार, एजेंसी को ऐसी वेबसाइट बनाने पर ध्यान देना होगा जो लोगों के लिए आसानी भरी है. साथ ही पीएम इंडिया की बातों को देसी और विदेशी भाषाओं में जारी कर सके.

जिन भाषाओं को शामिल किया जा रहा है, उनमें यूएन की आधिकारिक 6 भाषाएं अरबी, चीनी, अंग्रेजी, फ्रेंच, रूसी और स्पेनिश शामिल है. इसके अलावा जिन भारतीय भाषाओं को शामिल किया जा रहा है, उनमें असमी, बंगाली, बोडो, डोगरी, गुजराती, हिन्दी, कन्नड़, कश्मीरी, कोंकणी, मैथली, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, नेपाली, ओरिया, पंजाबी, संस्कृत, संथली, सिंधि, तमिल, तेलुगु, उर्दू शामिल हैं.

नई वेबसाइट में एक ही ऑप्शन में अलग-अलग भाषाओं में जाने का ऑप्शन मिलेगा. इसमें प्रधानमंत्री के द्वारा सोशल मीडिया पर डाले जा रहे पोस्ट को शामिल किया जाएगा. 30 जुलाई तक इसके लिए प्रपोजल दे सकते हैं, जबकि सात अगस्त तक प्रोजेक्ट को फाइनल किया जाएगा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper