पीएम मोदी का लेह दौरा चीन-पाक को कड़ा संदेश, हम पीछे हटने वाले नहीं

लेह: लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अचानक लेह पहुंच गए हैं. पीएम मोदी के इस सरप्राइज विजिट से चीन समेत पूरी दुनिया को बड़ा संदेश मिला है. डिफेंस एक्सपर्ट्स की माने तो पीएम नरेंद्र मोदी ने लेह जाकर बड़ा कदम उठाया है और चीन को संदेश दे दिया है कि हम पीछे हटने वाले नहीं हैं.

रिटायर मेजर जनरल एके सिवाच ने बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे से चीन को साफ मैसेज मिल गया है कि हम पीछे नहीं हटेंगे. अगर चीनी सैनिक एलएसी पर डटे रहेंगे तो हमारे सैनिक भी एलएसी पर डटे रहेंगे. हम किसी भी मामले में समझौता नहीं करेंगे.

रक्षा विशेषज्ञ रिटायर ब्रिगेडियर विक्रम दत्ता का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लेह दौरे से फ्रंटलाइन पर तैनात सेना का मनोबल बढ़ गया है. पीएम मोदी का सेना से लगाव काफी अच्छा है. इससे सेना के जवानों और अधिकारियों को पूरी ताकत, मनोबल और यथाशक्ति मिलेगी, जिससे वह एलएसी पर चीन का डटकर मुकाबला कर सके.

पीएम नरेंद्र मोदी के ग्राउंड जीरो पर पहुंचने पर रिटायर ब्रिगेडियर विक्रम दत्ता ने कहा कि इससे प्रधानमंत्री को जमीनी हालात के बारे में जानकारी मिलेगी. साथ ही वह समझ पाएंगे कि वर्तमान हालात क्या हैं. साथ ही जब कोई भी सेना अपने प्रधानमंत्री को युद्धक्षेत्र में देखती है तो उसका हौसला कई गुना बढ़ जाता है.

वहीं, रिटायर मेजर जनरल शशि अस्थाना ने कहा कि अब तक चीन से सैन्य वार्ता की गई है. ऐसे में पीएम नरेंद्र मोदी जमीन पर हालात को समझेंगे और जानेंगे कि अभी तक चीन से क्या बात की गई है. इसके साथ ही भारतीय सेना की तैयारी का जायजा लेंगे. चीन भले सहमत है कि वो पीछे जाएगा, लेकिन हम चीन की बात पर भरोसा नहीं कर सकते हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper