पीएम मोदी के चुनावी आगाज का सोनिया ने दिया अपने अंदाज में जबाब

अखिलेश अखिल

लखनऊ ट्रिब्यून दिल्ली ब्यूरो: पीएम मोदी ने राज्य सभा में ना सिर्फ कांग्रेस पर तीखा हमला किया वल्कि चुनावी आगाज भी कर दिया। मोदी ने कांग्रेस वालों से कई सवाल किये। जहां तक संभव हुआ हमला किया और कांग्रेस की पूरी राजनीति को बेकार और जनविरोधी करार देते हुए लोकतंत्र के लिए खतरा भी बताया। पीएम के उस भाषण को देख सुन लोग हतप्रभ भी हुए और खुश भी। लेकिन यह सब एकपक्षीय मामला था। अब बारी कांग्रेस की थी।

भला कांग्रेस वाले क्यों चुप रहते। राजनीति को सुगन्धित और दुर्गन्धित करने में कांग्रेस से बड़ा फिर कौन ! धनात्मक और ऋणात्मक राजनीति में कांग्रेस से भला कौन पार सकता है। गुरूवार को सोनिया गांधी ने मोदी के सारे सवालों का जबाब कुछ अपने अंदाज में दिया। सोनिया गांधी ने कहा कि वे समान विचार वाले राजनीतिक दलों के साथ भाजपा को अगले चुनाव में हराने के लिए कार्य करेंगी। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार सच्चाई का सामना नहीं कर रही है, यह बात कल लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण से स्पष्ट हो जाती है।

सोनिया गांधी के इस बयान से यह संदेश मिलता है कि वे 2019 के चुनावी मोर्चे पर खुद मोदी के खिलाफ खड़ी हो सकती हैं। आपको बता दें कि सोनिया गांधी के नेतृत्व कौशल पर किसी को संदेह नहीं है और उनके नेतृत्व में विपक्ष अधिक एकजुट हो सकता है। सोनिया गांधी ने अपनी पार्टी को नेताओं को भी गोलबंदी से बचने का संदेश यह कह कर दिया कि नये कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अब उनके भी बॉस हैं और इसमें किसी को संदेह नहीं हाेना चाहिए।

कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि वह समान विचारों वाले राजनीतिक दलों के साथ काम करेंगी और यह पक्का करेंगी कि अगले चुनाव में भाजपा की हार सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा की साजिश कर रही है ताकि राजनीतिक लाभ के लिए समाज का ध्रुवीकरण किया जा सके। उन्होंने कहा कि यह कर्नाटक में दिखायी देगा जहां कुछ माह में चुनाव होने वाला है। उन्होंने गुजरात में मुश्किल परिस्थिति में अच्छे प्रदर्शन व राजस्थान उपचुनाव में मिली जीत को होने वाले बदलाव का संकेत बताया।

सोनिया गांधी ने राहुल गांधी के लिए कहा, ‘‘हमने नये कांग्रेस अध्यक्ष का निर्वाचन किया है तथा मैं आपकी तरफ से और अपनी तरफ से उन्हें शुभकामनाएं देती हूं। अब वह मेरे भी बॉस है। .इस बारे में कोई संदेह नहीं रहना चाहिए और मैं यह जानती हूं कि आप सभी उनके साथ उसी उत्साह, प्रतिबद्धता एवं वफादारी के साथ काम करेंगे जैसा कि आपने में मेरे साथ किया। उन्होंने कहा कि ‘‘मैं आश्वस्त हूं कि हम पार्टी के पुनरुद्धार और बेहतर भविष्य के लिए उनके नेतृत्व में मिलकर काम करेंगे। प्रक्रिया शुरू हो गयी है।’माना जा रहा है कि मोदी ने जिस तरह से कांग्रेस पर हमला किया है उससे सोनिया को गहरी चोट पहुंची है। सोनिया अब पार्टी को मजबूत बनाकर बीजेपी को जबाब देने की तैयारी कर रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper