पीएम मोदी ने की ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ की शुरुआत, 1.25 करोड़ लोगों को मिलेगा रोजगार

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ की शुरुआत कर दी है। इस वर्चुअल लॉन्चिंग के मौके पर राज्य सरकार के संबंधित विभागों के मंत्री भी मौजूद रहे। इस रोजगार अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के 1.25 करोड़ लोगों को नौकरी और रोजगार मिलेगा।

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य में वापस आए प्रवासी मजदूरों को होम क्वारंटीन में रखा जा रहा है, क्वारंटीन अवधि खत्म होने के बाद मजदूरों के लिए पर्याप्त संख्या में नौकरी देने के लिए योजना तैयार की गई है। इसके लिए इन श्रमिकों की स्किल मैपिंग की गई है। कोविड-19 महामारी के बीच देशभर में लागू लॉकडाउन के चलते उत्तर प्रदेश में लगभग 35 लाख से ज्यादा मजदूर घर वापस लौटे हैं। वर्तमान में उत्तर प्रदेश के 31 जिलों में 25,000 वापस लौटे हुए प्रवासी मजदूर हैं।

इस योजना को लेकर सरकार का कहना है कि इन मजदूरों के लिए उनके गृह राज्य और घर के आस-पास ही रोजगार उपलब्ध कराने के लिए युद्धस्तर पर काम किया जा रहा है. मजदूरों की हितों की सुरक्षा के लिए एक आयोग का भी गठन किया गया है।

केंद्र की मोदी सरकार की इस योजना में इन वापस लौटे हुए मजदूरों को रोजगार देने, स्थानीय बिजनेस को प्रमोट करने और औद्योगिक संस्थानों के साथ पार्टनरशिप कर रोजगार के अवसर बढ़ाने का लक्ष्य है। प्रधानमंत्री इस उद्घाटन कार्यक्रम में राज्य के छह जिलों के ग्रामीणों से भी बात की। कुछ ऐसे लोगों को इस कार्यक्रम से जोड़ा गया, जो अपना खुद का उद्यम शुरू किया है।

इन जिलों के गांवों को इस प्रोग्राम से सामुदायिक केंद्रों और कृषि विज्ञान केंद्र से जोड़ा गया, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया है। पीएम मोदी ने इन छोटे उद्यमियों से बात करते हुए कहा कि देश की सभी सरकारों को इन्ही लोगों से सीखना चाहिए. इन लोगों ने आपत्ति को अवसर में बदला है और हमें भी यही करना है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper