पीएम मोदी बस्तर में जहां उतरेंगे, वहां के ग्रामीण 8 साल से मांग रहे हैं पानी

बीजापुर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बीजापुर जिले के जांगला में प्रस्तावित दौरे के अवसर पर ग्राम एरियनपाल के आदिवासी पीने के पानी की मांग करेंगें, क्योंकि पिछले आठ वर्षों से लगातार जिला प्रशासन, शासन से पेयजल की मांग करते आ रहे हैं पर अब तक मांग पूरी नहीं हुई है। अब इन आदिवासियों को उम्मीद है कि प्रधानमंत्री के जांगला दौरे के अवसर पर यह सौगात हमें मिलेगी।

ग्राम कोंगपल्ली के ग्राम पंचायत के सरपंच सुदरू कोड़ियम ने बताया कि कई वर्षो से एरियनपाल में पेयजल की संकट है और पिछले सात सालों से शासन – प्रशासन से लगातार पेयजल की मांग की जा रही है । पानी नहीं मिलने से समीप के खेत में एक गहरे गढडे में सिरने वाली दूषित पानी से अपना प्यास बुझा रहे हैं।

सरपंच सुदरू कोडियम ने बताया कि आगामी 14 अप्रैल को जांगला में प्रधानमंत्री के आगमन के अवसर पर इस गांव के 40 परिवार के लोग जिनकी आबादी 160 है । प्रधानमंत्री से मुलाकात कर पेयजल समस्या से अवगत करायेंगे और इन आदिवासियों को उम्मीद है कि उन्हें अब उनकी मांग पूरी होगी ।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper