पुराने लखनऊ के इलाकों में सुरंग के अन्दर चलेगी मेट्रो ट्रेन

लखनऊ ब्यूरो। लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एलएमआरसी) ने चारबाग से बंसतकुंज के बीच के पुराने लखनऊ के इलाकों में मेट्रो सुरंग में चलाने की योजना बनाई है। इन इलाकों में मेट्रो के निर्माण पर पांच हजार 494 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

एलएमआरसी के प्रवक्ता ने शनिवार को पत्रकारों से बताया कि लखनऊ के चारबाग से बंसतकुंज के बीच के पुराने इलाकों में मेट्रो सुरंग में चलेगी। चारबाग से बंसतंकुंज तक (पुराने लखनऊ) मेट्रो के निर्माण पर पांच हजार 494 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि अमीनाबाद-पाण्डेयगंज जैसे व्यस्त बाजारों में ट्रैफिक व सड़कों की स्थिति को देखते हुए मेट्रो को अण्डर ग्राउण्ड चलाने की योजना बनायी गई है। एलएमआरसी ने इसकी मंजूरी के लिए फाइल उत्तर प्रदेश सरकार के पास भेज दी है।

चारबाग से बसंतकुंज के बीच की मेट्रो को एलएमआरसी ने ब्लू लाइन नाम दिया है। यह कॉरिडोर पुराने लखनऊ को जोड़ रहा है। इस रूट पर कई पुराने बाजार आ रहे हैं। बाजारों की वजह से यहां के रोड अतिक्रमण की चपेट में है। कुछ जगहों पर सड़कें भी सकरी हैं। इसलिए सर्वे के बाद दिल्ली मेट्रो रेल कारॅपोरेशन (डीएमआरसी) ने यहां सुरंग में मेट्रो चलाने का प्रस्ताव किया था।

अब इसे डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) में भी शामिल कर लिया गया है। इस कॉरिडोर में कुल सात मेट्रो स्टेशन होंगे। इनमें चारबाग, गौतमबुद्ध मार्ग, अमीनाबाद, पाण्डेयगंज, सिटी स्टेशन, मेडिकल चौराहा तथा नवाजगंज स्टेशन सुरंग में बनाए जाएंगे। जबकि ठाकुरगंज, बालागंज, सरफराजगंज, मूसाबाग तथा बसंतकुंज के स्टेशन जमीन से करीब 15 से 22 मीटर ऊपर होंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper