पुराने से पुराने चोट के निशान को भरने में सहायक हैं यह चीजें, एक बार इस्तेमाल करके देखिए

लखनऊ: आपकी त्वचा पर घाव होना एक आम सी बात है। अगर घर में बच्चे होते हैं तो अक्सर उन्हें चोट लगती ही रहती है। ऐसे में आप की जिम्मेदारी होती है कि उनकी चोट जल्दी से जल्दी भरे। घाव को ज्यादातर तक खुला छोड़ना भी सही नहीं है इससे संक्रमण के संभावना बढ़ जाती है। क्या आप जानते हो कि घाव को भरने के घरेलू नुस्खे आपके रसोई घर में ही मौजूद है। अब से अगर बच्चों को चोट लग जाए तो आपको किसी डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं‌ आप अपनी किचन मैं उपलब्ध सामग्री से ही अपने बच्चों के घाव को ठीक कर सकते हैं। आइए जानते हैं कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे जिनकी मदद से हम घर बैठे अपने घाव को ठीक कर सके।

एलोवेरा: एलोवेरा इन ऐसी प्राकृतिक औषधि है जो कि गुणों का भंडार है। हम लोग एलोवेरा का उपयोग त्वचा पर लगी चोट पर कर सकते हैं। एलोवेरा घाव को भरने के लिए महत्वपूर्ण औषधि है।

हल्दी: हल्दी ना केवल आपके घाव को जल्दी से भरेगा परंतु एक बेहतरीन एंटीसेप्टिक का काम भी करेगा। जब भी कभी कट लगने पर आप हल्दी लगाते हैं तो ना केवल आपका घाव जल्दी भरता है बल्कि हल्दी संक्रमण को रोकने के लिए भी बेहतरीन औषधि है।

शहद: शहद भी घाव भरने के लिए बेहतरीन औषधि है। जब भी कभी आपको चोट लग जाए तब आप चोट को साफ पानी से धोकर शहद का लेप लगाएं। शहद चोट की वजह से आई सूजन को भी कम करता है।

सिरका: चोट पर सिरका लगाने से थोड़ी जलन तो होती है परंतु यह बहुत ही जल्द ही आप के घाव को भर देता है। रुई में 2 बूंद सिरका डालकर घाव वाली जगह लगाने से घाव जल्दी भरेगा।

टी बैग: अक्सर लोग चाय पीने के बाद टी बैग को फेंक देते हैं परंतु क्या आप जानते हैं कि यह आपके घाव भरने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण औषधि हो सकती हैं। अगर आप के घाव से खून आ रहा है तो टी बैग लगाने से घाव जल्दी भर जाएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper