पूर्वांचल के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा एक्सप्रेस-वे: सीएम योगी

लखनऊ ब्यूरो। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का स्थलीय निरीक्षण करने शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आजमगढ़ पहुंचे। वहां किशुनदासपुर में उन्होंने अधिकारियों को निर्माण कार्य समय से पूरा करने और गुणवत्ता का ख्याल रखने का निर्देश दिया।

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को पूर्वांचल के विकास का मील का पत्थर बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे 36 महीने में बनकर तैयार होगा। जमीन अधिग्रहण के बाद किसानों को मुआवजे का भुगतान किया जा चुका है। अब एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्य ने गति पकड़ ली है।

तय कार्यक्रम स्थल तहबरपुर ब्लाक के किशुनदासपुर गांव के समीप बने हेलीपैड पर घंटों देरी से पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ का मंडलायुक्त की अगुवाई में अधिकारियों ने जोरदार स्वागत किया। उन्होंने आला अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का जायजा लिया। इस दौरान मीडियाकर्मीयों से बातचीत करते हुए सीएम ने कहा कि एक्सप्रेस-वे के निर्माण से पूर्वांचल के विकास को गति मिलेगी। यह पूर्वांचल की लाइफ लाइन साबित होगा।

उन्होंने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे 340.824 किमी लंबा यह एक्सप्रेस-वे लखनऊ के चांदसराय जनपद से शुरू होगा और यूपी बिहार की सीमा से 18 किमी पहले गाजीपुर जनपद के हैदरिया में एनएच-31 में मिल जाएगा। इसकी अनुमानित लागत 23349 करोड़ रुपये है तथा सिविल निर्माण कार्य की लागत 11836 करोड़ रुपये जीएसटी के साथ है।

एक्सप्रेस-वे लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, फैजाबाद, सुल्तानपुर, आंबेडकरनगर, आजमगढ़ और मऊ होते हुए गाजीपुर तक जाएगा। एक्सप्रेस-वे के राइट ऑफ-वे की चौड़ाई 120 मीटर होगी। एक्सप्रेस-वे के एक तरफ 3.75 मीटर चौड़ाई का सर्विस रोड बनाया जाएगा। बाद में इसे आठ लेन बनाया जायेगा। इस एक्सप्रेस-वे से उद्योग कॉरीडोर का निर्माण होगा। यह पूर्वी यूपी के अंतिम छोर तक जायेगा। पूर्वाचंल में रोजगार नौकरी के अवसर पैदा होंगे। निर्माण कार्य की गुणवत्ता और समयबद्ध तरीके से इसका निर्माण पूरा कराना हमारी प्राथमिकता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper