पूर्व विधायक रामदयाल प्रभाकर ने इस्तीफे की पेशकश की

भोपाल: उपचुनाव से पहले एमपी की राजनीति में उथल-पुथल का दौर जारी है। खास करके बीजेपी में नए मेहमानों की एंट्री से अंतर्कलह और अंसतोष का माहौल पनप रहा है। मंत्रिमंडल विस्तार और विभागों की बंटवारे के बाद अब बीजेपी नेता तवज्जों ना मिलने से अपनी ही पार्टी में उपेक्षा और अपमान महसूस कर रहे है, जिसका नतीजा ये निकलकर सामने आ रहा है कि कुछ बगावत कर रहे है तो कुछ इस्तीफे की पेशकश कर पार्टी से किनारा करने की कोशिश में लगे हुए है।

ताजा मामला दतिया से सामने आया है, यहां के सेवड़ा विधानसभा से पूर्व विधायक रामदयाल प्रभाकर ने इस्तीफे की पेशकश की है। प्रभाकर ने प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा को इस संबंध में चिट्ठी लिखी है।प्रभाकर ने पार्टी की प्राथमिक सदस्य के साथ सभी पदों से इस्तीफा देने की पेशकश की है।प्रभाकर ने पार्टी में तानाशाही होने का आरोप लगाया है वही उनकी उपेक्षा और अपमान की भी बात कही है।

प्रभाकर की चिट्ठी के बाद सियासी गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है वही बीजेपी में हड़कंप मच गया है।उपचुनाव से पहले बीजेपी को अपनों की नाराजगी भारी पड़ती नजर आ रही है, हालांकि पार्टी द्वारा बार बार दावा किया जा रहा है कि कोई डैमेज नही है सब कंट्रोल में है , लेकिन आए दिन घट रहे घटनाक्रम तो संकेत कुछ और ही दे रहे है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper