पूर्व शिवसेना पार्षद के खिलाफ कोविड नियम तोड़ने पर मामला दर्ज, शादी में जुटाए थे 500 से अधिक लोग

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के कल्याण से पूर्व शिवसेना पार्षद सुनील वेले पर कोरोना नियम तोड़ने को लेकर मामला दर्ज हुआ है। दरअसर उन्होंने अपनी बेटी की शादी में 50 से अधिक लोगों को आमंत्रित किया था जबकि प्रशासन ने कोरोना के बीच शादी के लिए मेहमानों की अधिकतम संख्या 50 तय की है। वेले के अलावा एक अन्य दुल्हन के पिता और शादी हॉल के मालिक के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। बता दें कि शनिवार की रात से ही शादी में उमड़ी भीड़ की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई जिसके बाद मामला सामने आया।

हॉल प्रशासक रमेश सिंह को पुलिस ने रविवार को ही गिरफ्तार किया है। हालांकि, सुनील वेले और सुरेश म्हात्रे को गिरफ्तार किया जाना बाकी है। तीनों पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार, कल्याण (पश्चिम) के चिकनघर स्थित भवानी मैरिज हॉल में शनिवार रात करीब 9.15 बजे दो अलग-अलग शादियों का आयोजन किया गया था। जिसमें से एक शादी पूर्व शिवसेना पार्षद सुनील वेले की बेटी की थी।

पुलिस ने बताया कि इस शादी में लगभग 500 लोग मौजूद थे और यहां बिना किसी सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क के पार्टी की जा रही थी। हमने घटनास्थल का दौरा किया और हॉल प्रशासक को भी गिरफ्तार किया। दो अन्य लोगों की गिरफ्तारी की प्रक्रिया जारी है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस ने त्राही-त्राही मचा दी है। एक तरफ जहां भारत कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझ रहा है वहीं, महाराष्ट्र में देश में सबसे ज्यादा मामले देखने को मिल रहे हैं। महाराष्ट्र का भारत के दैनिक मामलों में लगभग 60 प्रतिशत का योगदान कर रहा है। पूरे देश में कोरोना के मामले में महाराष्ट्र टॉप पर बना हुआ है। यहां कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए कई कोरोना सेंटर्स भी बनाए जा रहे हैं। पिछले एक सप्ताह में राज्य में 1 लाख 90 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper