पेंटागन ने तुर्की को इस मामले को लेकर चेताया

नई दिल्ली: पेंटागन ने रूसी मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने पर तुर्की को चेतावनी दी है. एक उच्च अधिकारी ने कहा है कि अगर तुर्की यह मिसाइल खरीदता है तो उसके परिणाम संयुक्त ‘एफ-35’ लड़ाकू कार्यक्रम के लिए विध्वंसकारी साबित होंगे. साथ ही नाटो के साथ उसके संबंधों पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा.

समाचार एजेंसी एएफपी की रिपोर्ट के मुताबिक, अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के लिए कार्यवाहक सहायक रक्षा मंत्री के व्हीलबारगर ने अटलांटिक परिषद की बैठक में कहा कि रूसी मिसाइल रक्षा प्रणाली ‘एस-400’ खरीदने की तुर्की की योजना पश्चिमी सहयोगियों के साथ काम करने की उसकी अधिकारिता को समाप्त करेगी. साथ ही अमेरिका उस पर प्रतिबंध लगाने को मजबूर होगा.

उन्होंने यह भी कहा कि रूसी ‘एस-400’ मिसाइल रक्षा प्रणाली एफ-35 जैसे विमानों को गिराने के लिए तैयार की गई है. यह कल्पना से परे है कि रूस ऐसे मौके का फायदा नहीं उठाएगा.

अधिकारी ने आगे कहा कि अमेरिका का मानना है कि तुर्की यह सौदा इसलिए कर रहा है कि सीरिया से लगी उसकी सीमा पर कुर्द विद्रोहियों के खिलाफ उसे रूस का सहयोग मिल सके. उन्होंने आगे कहा कि ट्रंप प्रशासन अगर इस खरीद-फरोख्त के लिए तुर्की को दंड न भी देना चाहे, लेकिन अंकारा के लिए सख्त रुख वाली कांग्रेस उसे ऐसा करने के लिए बाध्य करेगी.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper