पोखरण में युद्धाभ्यास के दौरान जवान सतीश कुमार शहीद

आगरा: आगरा के अकोला का जवान सतीश कुमार चाहर पोखरण में युद्धाभ्यास के दौरान तोप की बैरल फटने से शहीद हो गया। मंगलवार रात सूचना मिलते ही गांव सहित क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। सतीश का पार्थिव शरीर गुरुवार को गांव पहुंच सकता है।

अकोला निवासी सतीश चाहर पुत्र छत्रपाल चाहर अगस्त 2010 में बीएसएफ में भर्ती हुए थे। परिजनों ने बताया कि सतीश की वर्तमान में तैनाती गुजरात के भुज में थी। अपनी बटालियन के साथ वह युद्धाभ्यास के लिए पोखरण, जैसलमेर आए थे। पिता छत्रपाल सिंह ने बताया है कि मंगलवार रात लगभग 10 बजे उनके पास सूचना आई। बताया गया कि युद्धाभ्यास के दौरान फील्ड फायरिंग रेंज में अचानक बैरल फट गया। हादसे में सतीश कुमार चाहर सहित तीन जवान शहीद हुए हैं। साथ में मौजूद दो बीएसएफ जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

सतीश चाहर के शहीद होने की सूचना आते ही पूरे चाहरवाटी क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। परिजनों ने बताया है कि चार भाइयों में सतीश चाहर सबसे बड़े थे। छोटे भाई सोनवीर सिंह पिता के साथ खेती संभालते हैं। वहीं तीसरा भाई गुरुदेव सिंह उर्फ गुड्डा इस समय इंडियन एयरफोर्स में देश सेवा कर रहे हैं। सभी भाइयों में शुरू से ही देश सेवा का जज्बा है। सबसे छोटा भाई संदीप सेना में जाने की तैयारी कर रहा है।

पिता छत्रपाल सिंह का कहना है कि वह अपने छोटे बेटे को भी देश सेवा के लिए भेजेंगे। अगर मौका मिला तो उनका छोटा बेटा भी देश की सेवा करेगा। सतीश चाहर की शादी लगभग 9 वर्ष पहले मथुरा की सोनिया के साथ हुई थी। सतीश की आठ वर्ष की मासूम बेटी है। सतीश के शहीद होने से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper