प्रतापगढ़ में बाहुबली विधायक राजा भैया समेत 3 पर एफआईआर दर्ज

प्रतापगढ़: यूपी विधानसभा चुनाव में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है। इसी बीच सोमवार को प्रतापगढ़ के कुंडा विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के ख‍िलाफ सपा के बूथ एजेंट राकेश पासी ने मुकदमा दर्ज कराया है। कुंडा थाने में दर्ज एफआईआर में सपा एजेंट ने राजा भैया पर जातिसूचक गाली, जान से मारने की धमकी का आरोप लगाया है। राजा भैया समेत तीन नामजद पर एफआईआर, जबकि 15 अज्ञात लोगों पर कुंडा कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है। दरअसल कुंडा से सपा प्रत्‍याशी गुलशन यादव उम्मीदवार हैं। रव‍िवार को वोटिंग के दिन सपा और राजा भैया के समर्थक कई बार आमने-सामने आए थे। इसके बाद सपा ने चुनाव आयोग से कुंडा में फर्जी वोटिंग की शिकायत की थी।

कुंडा थाने में दर्ज एफआईआर में सपा एजेंट ने राजा भैया पर जातिसूचक गाली, जान से मारने की धमकी का आरोप लगाया है। साथ ही सपा ने कुंडा की बूथ संख्या 213 और 214 में बूथ कैप्चरिंग की शिकायत भी की थी। हालांकि राजा भैया ने कथित हमले से कोई लेना-देना होने से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि मैं ऐसा कुछ क्यों करूंगा और चुनाव खराब क्यों करूंगा? यह सहानुभूति पाने के लिए किया गया है। गुलशन यादव 1993 से कुंडा विधानसभा सीट से जीत रहे राजा भैया पर जोरदार हमला बोल रहे हैं।

राजा भैया ने कहा न तो प्रदेश में सपा की सरकार बन रही है न ही वे अखिलेश यादव को सीएम बनने देंगे। वहीं अखिलेश यादव ने कहा, शीशे तोड़ने से हौसले नहीं तोड़े जा सकते, कुंडा अब गुलशन से ही गुलशन होगा! गुलशन यादव राजा भैया के काफी करीबी माने जाते थे। इसबार समाजवादी पार्टी ने बड़ा दांव खेलते हुए राजा भैया के खिलाफ गुलशन यादव को ही कुंडा विधानसभा सीट से अपना प्रत्याशी बनाकर मैदान में उतारा है। एक वक्त था जब गुलशन यादव की गिनती राजा भैया के बेहद करीबियों में होती थी। कुंडा सीट से ही रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया इस समय विधायक हैं। इस सीट पर 1993 के बाद से राजा भैया ही चुनाव जीत रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper