प्रथम ऑनलाइन फिल्म फेस्टिवल में अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर

लखनऊ: युवा वर्चुअल फिल्म फेस्टिवल- एक ऐसा ऑनलाइन फिल्म फेस्टिवल है प्लेटफार्म है, जो स्वतंत्र फिल्म निर्माताओं को उनके काम और कला को केवल भारतीय दर्शकों में ही नहीं बल्कि वैश्विक दर्शकों को भी प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान करता हैं। इस प्लेटफार्म पर फिल्म और दृश्य कला के व्यवसाय के लिए शानदार अवसर उपलब्ध है। यूवीएफएफ का उद्देश्य फिल्म निर्माताओं के लिए एक ऐसा मंच तैयार करना है, जहां वो अपने काम का प्रदर्शन ग्लोबल दर्शकों और सही ज्यूरी सदस्यों तक कर सके, जिससे उनकी कला को पहचान और मान्यता मिलने मे आसानी हो।

इन सभी प्रविष्टियों को हम सोशल मीडिया और वेबसाइट के माध्यम से मुफ्त में प्रचारित करते है, UVFF2020 के तहत हम फिल्म निर्माताओं को अपनी प्रविष्टियां (entries) भेजने के लिए सात श्रेणियां प्रदान करते है। ये सात श्रेणियां हैं; सर्वश्रेष्ठ फिल्म (फिक्शन), सर्वश्रेष्ठ फिल्म (गैर फिक्शन), सर्वश्रेष्ठ फिल्म (सामाजिक), सर्वश्रेष्ठ फिल्म (पर्यावरण), सर्वश्रेष्ठ फिल्म (कोविड -19), सर्वश्रेष्ठ फिल्म (विदेशी भाषा) और सर्वश्रेष्ठ फिल्म (संगीत वीडियो)

UVFF 2020 ने सभी फिल्मों की समय अवधि को 40 मिनट तक रखने का फैसला किया है। आधिकारिक तौर पर चुने हुए सभी प्रोजेक्ट्स को यूवीएफएफ का आधिकारिक लॉरेल (इनाम) और प्रतियोगिता में उनकी अंतिम स्थिति के अनुसार एक कस्टमाइज़ेड सर्टिफिकेट प्रदान करेगी। जैसा कि ऊपर बताया और रेखांकित किया गया है, उनमें से कुछ प्रोजेक्ट्स ऑनलाइन दिखाए जाएंगे।

UVFF 2020 में ज्यूरी सदस्यों की एक सम्मानित सूची शामिल है। को केवल मशहूर फ़िल्म निर्माता, विशेषज्ञ और सामाजिक कार्यकर्ताओं तक सीमित नहीं हैं, बल्कि इसमे संगीतकार, रंगमंच के व्यक्ति, पर्यावरणविद और अन्य भी शामिल हैं, जो इन प्रविष्टि (entries) के सेलेक्शन चुनाव करेंगे। सदस्यों की सम्मानित सूची के कुछ महत्वपूर्ण नाम हैं- परवीन डबास, राकेश बेदी, पेंटल, जावेद सय्यद, और भी कई अन्य प्रमुख नाम। UVFF को कई शीर्ष लोगों द्वारा समर्थन दिया जाता है जैसे सतीश कौशिक, पंकज बेरी, प्रीति झांगियानी, सिमरनअहुजा आदि।

यूवीएफएफ 2020 100% गैर-लाभकारी इकाई होगी। हमने असम स्थित एक NGO के साथ गठबंधन किया है जो असम के अंदरूनी हिस्सों में विभिन्न समुदायों के साथ COVID19 के खिलाफ लड़ने का काम कर रहा है। इस फेस्टिवल से होने वाले किसी भी आय को COIVD-19 के खिलाफ इस लड़ाई में लाखों लोगों की मदद करने के लिए दान के रूप में दिया जाएगा। यूवीएफएफ 2020 फिल्म फ्रीवे पर पूरे महोत्सव की मेजबानी और प्रबंधन करेगा, जो दुनिया भर में फिल्म समारोहों की खोज, प्रस्तुत करने और आकर्षित (engage) करने के लिए दुनिया का नंबर 1 मंच है।

सबमिशन पर UVFF2020 को जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है। अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, बंगलादेश और भारत के कश्मीर व अन्य कई हिस्सों से भी हमे नियमित रूप से प्रविष्टियां (Entries) आ रही हैं। प्रविष्टियां (Entries) जमा करने की अंतिम तिथि 14 जून है और अंतिम परिणाम 30 जून 2020 को घोषित किए जाएंगे। इस वेंचर के पीछे के जो असल आदमी है वो हैं कमल नथानी, जिन्होंने इस मुंबई फिल्म उद्योग में पिछले 35 साल बिताए हैं और विभिन्न मंत्रालयों और कॉर्पोरेट क्षेत्र के लिए कई टेलीविजन धारावाहिकों, फिल्मों, वाणिज्यिक विज्ञापन फिल्मों और अन्य सामाजिक फिल्मों का निर्माण और निर्देशन किया है। उनके नाम के आगे कुछ मशहूर और पुरस्कार विजेता वाली फीचर फिल्में भी शामिल हैं। वे स्वयं पिछले 30 वर्षों से विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोहों में भाग लेते आ रहे हैं ।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper