प्रिंस हैरी और मेगन मार्केल ने नहीं किया होने वाली बेटी का नाम फाइनल, जानें क्यों हो रही है देरी

प्रिंस हैरी(Prince Harry) और मेगन मार्कल(Meghan Markle) ने ओप्रा विन्फ्रे(Oprah Winfrey) के शो में खुलासा किया था दोनों जल्द ही एक बेटी के पैरेंट्स बनने वाले हैं. दोनों अपने दूसरे बेबी को लेकर काफी एक्साइटेड हैं, लेकिन अभी तक उन्होंने बेटी का नाम फाइनल नहीं किया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों अपनी बेटी का ऐसा नाम रखना चाहते हैं जिसका बेहद प्यारा मतलब हो. दोनों ने कुछ नाम फाइनल किए हैं, लेकिन अभी तक उनमें से एक फाइनल नहीं किया है.

मेगन और प्रिंस हैरी अपने परिवार के बड़े होने के लिए काफी एक्साइटेड हैं. दोनों ने अपने बेटे आर्ची के नाम को भी काफी सोच समझकर रखा था और अपनी बेटी के नाम को लेकर भी वे कोई जल्दबाजी नहीं करना चाहते. वे पूरा सोच समझकर ही बेटी का नाम फाइनल करेंगे.

हैरी और मेगन का बेटा अगले महीने 1 साल का हो जाएगा. बता दें कि आर्ची के नाम के जरिए दोनों ने प्रिंस हैरी की मां डायना को ट्रिब्यूट दिया था. डायरा के एक पूर्वज आर्चीबाल्ड कैम्पबेल से थे. आर्ची का मतलब होता है सच और बोल्ड और आर्ची का बीच का नाम है हैरीसन जिसका मतलब है हैरी का बेटा.

बेटे के रंग पर करते थे कमेंट

मेगन ने ओप्रा के शो में खुलासा किया था कि वह राजघराने में होने के बावजूद खुद को बिलकुल अकेला महसूस करती थीं. उन्होंने बताया था कि उनके बेटे आर्ची के रंग को लेकर उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा था.

मेगन ने कहा था कि राज परिवार को उनके बेटे के रंग से परेशानी थी. जब उनका बेटा पैदा होने वाला था तो उसके रंग को लेकर सभी लोगों ने चिंता व्यक्त की थी. इस बारे में कई बार चर्चा भी होती थी. राज परिवार के लोगों ने बेटे के रंग को लेकर प्रिंस हैरी से भी बात की थी.

हालांकि, मेगन ने परिवार के उन सदस्यों के नाम लेने से मना कर दिया था जो कि उनके बच्चे के रंग को लेकर कमेंट किया करते थे. आपको बता दें कि मेगन की मां अमेरिकन अफ्रीकन हैं और उनके पिता अमेरिकन थे, इसलिए राज परिवार के कुछ सदस्यों को मेगन और हैरी के बेटे के अश्वेत रंग को लेकर चिंता थी.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper