प्रियंका के निजी सचिव को गिरफ्तार करो : आलोक

लखनऊ। लखनऊ जर्नलिस्ट एसोसिएशन के बैनरतले शुक्रवार को बड़ी संख्या में पत्रकारों ने जीपीओ गाँधी प्रतिमा पर कालीपट्टी बांधकर प्रियंका गाँधी के निजी सचिव को गिरफ्तार करने की माँग को लेकर विरोध प्रर्दशन किया।

पत्रकारों को संबोधित करते हुए लखनऊ जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष आलोक कुमार त्रिपाठी ने कहा कि पिछले दिनों सोनभद्र आयी कांग्रेस नेता प्रियंका गाँधी के कार्यक्रम की कवरेज करने गये एबीपी गंगा के जर्नलिस्ट नितीश पांडेय के साथ प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप ने न केवल बदतमीज़ी की बल्कि जान से मारने की धमकी तक दी,अगर नेताओ व उनके समर्थक पत्रकारों के साथ इसी तरह से अभर्दता करते रहेगें तो चौथे स्तंभ की स्वतंत्रता खतरे मे पड़ जायेगी।

उन्होने कहा कि काफी प्रयास के बाद प्रियंका के निजी सचिव संदीप के खिलाफ एफआईआर तो दर्ज कर ली गयी लेकिन अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं की गयी। संदीप की गिरफ्तारी न होने से पत्रकारों मे रोष है। लखनऊ जर्नलिस्ट एसोसिएशन संदीप की तुरंत गिरफ्तारी की मांग के साथ ही सभी दलों के नेताओ को चेतावनी देती है कि पत्रकारों के मान सम्मान से खिलवाड़ न करें।

इस अवसर पर प्रदर्शन मे वरिष्ठ आलोक कुमार त्रिपाठी के साथ पत्रकार विजय उपाध्याय, शाश्वत तिवारी, रूपेन्द्र उपाध्याय,रवि उपाध्याय, संजय पाड़ेय ,अर्जुन दिवेदी, अनुराग श्रीवास्तव , आशुतोष गुप्ता ,संजय पाड़ेय ,त्रिनाथ कुमार शर्मा, रोहित बाजपेयी, रंजीत सिंह, प्रवीन कुमार सिंह ,राम बाबू, रवि शर्मा, बृजेन्द्र सिंह, जीशान फरीदी , अमित श्रीवास्तव ,चाँद फरीदी , रजत भारती ,दिलीप पाड़ेय, मो.सैफ ,वैष्णोंकांत शर्मा ,अजय गुप्ता ,आलोक सिंह ,भूपेन्द्र सिंह बड़ी संख्या में पत्रकार व छायाकार उपस्थित थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper