प्रेमी जोड़े ने थाने में रचाया ब्याह, पुलिस बनी बाराती

बाराबंकी: शादी के लिए रजामंद न होने पर एक प्रेमी जोड़े ने थाने में शादी की। इस शादी का अपर पुलिस अधीक्षक और पूरा थाना साक्षी बना है। विवाह बंधन की यह रस्म थाना परिसर में पुलिस वालों की मौजूदगी में निभाई गई। प्रेमी जोड़े के विवाह बंधन में बंधने के बाद पुलिस वालों ने दोनों को आशीर्वाद भी दिया। इसके बाद परिवार के लोग भी मान गए।

अपर पुलिस अधीक्षक दिगम्बर कुशवाहा ने बताया कि मोहम्मदपुर खाला थाना क्षेत्र में रहने वाले विनय कुमार और नेहा वर्मा एक दूसरे को कई सालों से प्यार करते हैं। दोनों ने परिवार से शादी के लिए कहा तो घरवालें कतई तैयार नहीं हुए। यह बात प्रेमी जोड़े को नागवार गुजरी और दो दिन पूर्व दोनों घर से गायब हो गये। लड़की के घरवालों ने लड़के पर उनकी बेटी भगा ले जाने का आरोप लगाकर तहरीर दी। पुलिस मामले को गंभीरता से लेकर जांच में जुट गयी।

रविवार की रात पुलिस ने दोनों को एक हिरासत में लेकर थाने लाये। लड़के और लड़की से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह एक-दूसरे से प्रेम करते हैं। शादी के लिए वह पूरी तरह से बालिग हैं। पुलिस ने दोनों के बालिग होने के सारे दस्तावेज भी देखे। जिसके बाद दोनों को थाना परिसर में ही शादी के बंधन में बांध दिया।

अपर पुलिस अधीक्षक दिगम्बर कुशवाहा ने सोमवार को मीडिया से मुखातिब होकर इस सम्बन्ध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ये दोनों दो दिन से अपने घर से लापता थे। इनके माता पिता थाने में रिपोर्ट लिखवाने आए थे। जांच के बाद पचा चला कि लड़का और लड़की दोनों बालिग हैं। दोनों एक दूसरे को चाहते हैं और शादी करना चाहते हैं, जिसके बाद दोनों परिवारों की सहमति से मोहम्मदपुर खाला थाना परिसर में ही दोनों की शादी करवाई गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper