प्रेम-प्रसंग में युवक की हत्या, पुआल डालकर शव फूंका

लखनऊ: प्रेम-प्रसंग के विवाद में बब्लू लोधी की हत्या कर दी गयी। शुक्रवार से लापता बब्लू की हत्या कर कातिलों ने शव पुआल डालकर फूंकने की कोशिश की। माल पुलिस की रडार पर आए पीड़िता के भाई को हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी तो हत्याकाण्ड का खुलासा हो गया। पुलिस आरोपित को लेकर रविवार को हरदोई के अतरौली स्थित देवकली अवना के जंगल में पहुंची, जहां बब्लू का अधजला शव बरामद हुआ। अतरौली पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस का कहना है कि आरोपित की बहन का बब्लू से प्रेम-प्रसंग था, जिसके चलते उसके खिलाफ छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज हुआ था। माल पुलिस एक आरोपित को गिरफ्तार कर वारदात में शामिल अन्य आरोपितों के बारे में पूछताछ कर रही है।पिपरी कुराखर गांव निवासी फूलचन्द्र लोधी परिवार के साथ रहते हैं।

‘गुजराती ईरानी वापस जाओ’, अमेठी में स्मृति के विरोध में लगे पोस्टर

पिपरी के पुरवा गांव में शुक्रवार को सरजू के घर पर भागवत कथा रखी गयी थी। फूलचन्द्र का मंझला बेटा बब्लू (23) बीते शुक्रवार की रात कथा सुनने गया था। देर रात तक वापस न लौटने पर घरवालों ने फोन मिलाया तो नम्बर बंद मिला। घरवाले सरजू के घर पहुंचे। पता किया तो ग्रामीणों ने बताया कि करीब साढ़े नौ तक बब्लू मौजूद था।उसके साथ दीपू भी था। घरवालों ने बब्लू को काफी तलाशा लेकिन कुछ पता नहीं चला। शनिवार को परिवारवाले माल थाने पहुंचे और सूचना दी। पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की। परिजनों ने गांव के ही पड़ोसी अंशू उर्फ आशू, इंदल, आल्हा व नागेन्द्र पर शक जताया। कहा कि बीते मार्च माह में दोनों पक्षों के बीच विवाद हुआ था। इसमें दूसरे पक्ष ने बब्लू के खिलाफ छेड़छाड़ व अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज करायी थी। बब्लू पक्ष ने भी तहरीर दी लेकिन उसपर कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की गयी थी। इसके बाद से दोनों परिवारों के बीच तनाव चल रहा था।पीड़ित परिवार ने कहा कि जिस वक्त बब्लू कथा में था, उस दौरान उसके साथ दीपू भी था। एसओ माल विनोद गोस्वामी ने बताया कि इस जानकारी के बाद बब्लू की तलाश शुरू करते हुए दीपू को हिरासत में लिया गया।

पूछताछ में दीपू ने कबूला कि आशू व नागेन्द्र ने उसे बब्लू को लेकर मुर्गी फार्म पर आने को कहा था। फार्म तक पहुंचाने में सैदापुर निवासी दीपू रैदास भी रहा।फार्म पर पहुंचने से पहले दोनों ने बब्लू को जमकर शराब पिलायी। नशे में होने के बाद दोनों ने बब्लू को नागेन्द्र के फार्म पर पहुंचा दिया। पुलिस ने रविवार को आशू को दबोचा। पहले तो वह पुलिस को बरगलाता रहा लेकिन बाद में वह टूट गया। आशू ने बब्लू की हत्या कर शव जलाने की बात कबूल की। उसने कबूला कि वह बब्लू को बाइक से लेकर हरदोई के अतरौली स्थित देवकली अवना स्थित जंगल में पहुंचा। वहां मफलर से गला कसकर हत्या की और फिर पुआल जलकर शव जला दिया। एसओ ने बताया कि पुलिस टीम आरोपित आशू को लेकर हरदोई के लिए रवाना हुई। शाम करीब चार बजे देवकली अवना स्थित जंगल में बब्लू का अधजला शव बरामद हुआ।

एसओ विनोद गोस्वामी ने अतरौली पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद वहां की पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने घटनास्थल पर छानबीन की लेकिन मृतक का मोबाइल बरामद नहीं हुआ।एसओ का कहना है कि आरोपित आशू अभी भी झूठ बोल रहा है। वह वारदात में किसी और के शामिल होने की बात से इंकार कर रहा है। उसका कहना है कि मार्च माह में हुए विवाद के बाद से वह बब्लू को मार डालने की साजिश रच रहा था। योजना के तहत पहले उसने बब्लू से दोस्ती की। वह सही मौके की फिराक में था और बीते शुक्रवार को उसे मौका मिल गया।एसओ का कहना है कि वारदात में और भी आरोपित शामिल हैं। आरोपित आशू से पूछताछ की जा रही है। फार्म पर बुलाने वाले नरेन्द्र व बाइक से पहुंचाने वाले साथी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। उनका कहना है कि बीते मार्च माह में बब्लू पर जो मुकदमा हुआ था, उस मामले में उसके खिलाफ चार्जशीट लगायी गयी थी। पड़ताल में सामने आया था कि बब्लू व आशू की बहन के बीच प्रेम-प्रसंग था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper