प. बंगाल में एक मतदान केंद्र पर हिंसा के बाद मतदान रोका गया

सूरी: लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के तहत पश्चिम बंगाल के बीरभूम लोकसभा क्षेत्र में सोमवार को हो रहे मतदान के दौरान एक मतदान केंद्र पर ग्रामीणों ने तोड़फोड़ कर दी जिसके बाद वहां मतदान रोक दिया गया है।यह घटना दबराजपुर विधानसभा क्षेत्र के पोडुमा में घटी।

अधिकारियों ने कहा कि मोबाइल फोन जमा करने को लेकर शुरु हुए विवाद के बाद ग्रामीण सुरक्षा बलों से भिड़ गए। स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए सुरक्षा बलों ने हवा में गोली चलाई। तृणमूल कांग्रेस की बीरभूम से उम्मीदवार शताब्दी रॉय ने कहा कि गोलीबारी में दो लोग घायल हो गए हैं। उन्होंने कहा, “केंद्रीय बलों ने गोलीबारी शुरू की जिसमें एक महिला और एक युवक घायल हो गए। उन्हें यह अधिकार किसने दिया? वे हर मतदान केंद्र जा रहे हैं और मतदाताओं से भाजपा को वोट देने के लिए बोल रहे हैं।”

सपा ने बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेजबहादुर को वाराणसी से बनाया उम्मीदवार

उन्होंने कहा, “वे यह भी पूछ रहे हैं कि क्या मतदान केंद्र पर भाजपा एजेंट मौजूद है। क्या वे भाजपा के एजेंट हैं जो यहां नरेंद्र मोदी की जीत सुनिश्चित करने आए हैं? वे बहुत अभद्रता से बात कर रहे हैं और धमका रहे हैं। एक मतदान केंद्र पर वे सिर्फ चार हैं। अगर लोग आक्रोशित हो जाएं तो क्या वे स्थिति नियंत्रित कर सकेंगे?” बीरभूम के अलावा, बहरामपुर, कृष्णानगर, रानाघाट, बर्दवान पूर्वी, बर्दवान-दुर्गापुर, आसनसोल और बोलपुर लोकसभा सीट पर मतदान हो रहा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper