फरीदाबाद में गणतंत्र दिवस को लेकर पुलिस का किरायेदार वेरिफिकेशन अभियान

फरीदाबाद: नौकरों व किराएदारों की वैरिफिकेशन के लिए एक बार फिर जिला पुलिस मुस्तैद हो गई है। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर पुलिस द्वारा किराएदार व नौकरों का सत्यापन शुरु किया जा रहा है। उधर, पुलिस कमिश्रर संजय कुमार ने चेतावनी दी है कि किरायेदार या नौकर के वेश में आतंकी भी छिपे हो सकते हैं, इसलिए लोग पुलिस का सहयोग करें और किरायेदारों व व नौकरों का सत्यापन करवाएं।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली से सटा फरीदाबाद एक औद्योगिक नगर है और यहां छोटी-बड़ी, वैद्य-अवैध मिलाकर लगभग 10 हजार इकाईयों में लाखों मजदूर कार्यरत हैं, जिनमें आधे से अधिक बिहार व यूपी से है। ये मजदूर फैक्टरी में नौकरी करते हैं और किराए के मकान में रहते हैं।बाहर से आए अपराधी भी यहां कालोनियों व स्लम क्षेत्रों को अपना ठिकाना बनाते हैं।

उधर, फरीदाबाद में किराये पर रहने वाले पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट इंद्रजीत को कुछ माह पूर्व पंजाब काउंटर इंटेलीजेंस विंग ने मोहाली से गिरफ्तार किया था। इंद्रजीत यहां बल्लभगढ़ की जेसीबी कंपनी में काम करता था। वह बम धमाका करने की योजना बना रहा था। इंद्रजीत उर्फ रिंकू मूलत: पंजाब का निवासी था तथा फरीदाबाद के सेक्टर-21 स्थित एक अपार्टमैंट में रह रहा था।

इसके अलावा कई वर्षाे पूर्व पुलिस ने बल्लभगढ़ में बतौर किरायेदार रहने वाले एक आतंकी को गिरफ्तार किया था, जिसके कब्जे भारी संख्या में हथियार व बारुद बरामद होने के बाद पूरे शहर के लोग सहम गए थे। उल्लेखनीय है कि किरायेदारों के वेरिफिकेशन के दौरान उन्हें परिचय पत्र व राशन कार्ड, आधार कार्ड आदि की कॉपी देनी होती है। जो मकान मालिक किराये व नौकरों की जानकारी थाना व चौकी पर दर्ज नहीं करवा रहे हैं, उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत मकान मालिक पर कार्रवाई की जा सकती है।

उधर, पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह का कहना है कि नौकर या किरायेदार रखने से पहले कागज पर उसका नाम, पता, जाति, मोबाइल नंबर, शादी का विवरण लिखकर थाने में देना होता है। वेरिफिकेशन में एक सप्ताह का समय लगता है। इसके अलावा पुलिस वैरिफिकेशन ऑनलाईन भी करवाई जा सकती है, जिसकी फीस 50 रुपये हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper